क्यों हर एनकाउंटर के बाद मुजरिम के हाथ में चिपकी रह जाती है पिस्टल?

मुजरिम कितना भी शातिर हो, कितना भी कमजोर हो, कैसा भी हो, उसके एनकाउंटर के बाद हाथ में पिस्तौल जरूर मिलती है.

व्यंग्य: राष्ट्रहित में बढ़े हैं प्याज के दाम, जानिए इसे खाने से होते हैं कौन से नुकसान

कहते हैं प्यार आखिरी में रुलाता है और प्याज शुरुआत में. शुरू में ही नुकसान करने वाली चीज कैसे फायदेमंद हो सकती है?

व्यंग्य: वित्तमंत्री से रिजर्व बैंक गवर्नर तक, कैलासा में बड़े पदों पर बैठेंगे ये लोग

अगर ये ब्रांड न्यू कंट्री बनाने का आइडिया हमारे देश के कर्णधारों को मिल गया होता तो आज हमारे यहां जुर्म आधा होता और देश डबल.

महमूद अली जी! जिस पुलिस ने नहीं लिखी FIR उस पर अपनी बहन से ज्यादा भरोसा कैसे करती पीड़िता?

पीड़िता की बहन ने बताया कि वे जब शिकायत करने गए तो उनकी FIR नहीं लिखी गई, बताया कि मामला दूसरे थाने का है. पीड़िता की मां ने कहा कि पुलिस ने शुरुआत में लापरवाही की नहीं तो बेटी जिंदा होती.

व्यंग्य: रोड पर फ्री में फेंके जाने वाले प्याज के भाव बढ़ने का जिम्मेदार कौन?

प्याज के बिना न सब्जी छौंकी जाती है, न दाल में तड़का लगता है, न सलाद मजा देती है, न चखने में स्वाद आता है, न अंडे में आनंद आता है, न चाऊमीन रुचिकर लगती है.

कांग्रेस में रहकर बीजेपी का प्रचार करने वाले कालिदास बने प्रोटेम स्पीकर, पढ़ें दिलचस्प सियासी सफर

शिवसेना से राजनीतिक करियर की शुरुआत करने वाले कालिदास कोलंबकर अभी बीजेपी से विधायक हैं.

व्यंग्य: संजय राउत जी, राजनीति में साथ जीने-मरने की कसमें खाते ही क्यों हो?

संजय राउत ने कहा 'बीजेपी इंद्र का सिंहासन भी दे तो शिवसेना साथ नहीं आएगी.' चुनाव से पहले का भरत मिलाप बाद में प्रलाप कैसे बन गया?

NRC से किस तरह अलग है NPR और क्यों हो रहा है इस पर विवाद?

देश भर में एनआरसी के साथ एनपीआर की प्रक्रिया लागू करने पर अभी निर्णय नहीं लिया जा सका है.

JNU फीस के मामले में दिल्ली विश्वविद्यालय से कितना अलग, देखिए आंकड़े

JNU की बात आते ही उसकी तुलना देश के बाकी विश्वविद्यालयों से होने लगती है. यहां ये आंकड़े देखने जरूरी हैं.

व्यंग्य: भारतीय पाकशास्त्र की राजनीति में घुसपैठ, जानिए जलेबी की महिमा

दरियागंज के सांसद ने इंदौर जाकर जलेबी खाई तो पूरे ट्विटर के पेट में मरोड़ उठने लगे.

भारतीय राजनीति में निर्दलीय प्रजाति … स्वरूप और संभावनाएं

गोपाल कांडा को रातोंरात दिल्ली उठा लाया गया, इसका मतलब सुपरमैन से ज्यादा शक्ति अब निर्दलीय में है.

हरियाणा चुनाव में बीजेपी के नसीम अहमद और जाकिर हुसैन का क्‍या हुआ, देखें रिजल्‍ट

बीजेपी ने हरियाणा में दो मुस्लिम प्रत्याशियों को टिकट दिया था जिनका नतीजा चौंकाने वाला रहा है.

क्या है ‘डाउनहिल माउंटेन बाइकिंग’ जिसे देख अटक जाती हैं सांसें

ये साइकिल रेस अपनी तरह की सबसे खतरनाक रेस होती है, इस रेस के चलते 1999 में एक बाइकर की मौत हो चुकी है.

न्यूक्लियर लॉन्च मैसेज के लिए अब फ्लॉपी डिस्क का इस्तेमाल नहीं करेगी अमेरिकी सेना

अमेरिकी सेना के इस फैसले के साथ ही जानिए कि क्या है फ्लॉपी डिस्क और इसमें कितना डेटा आता था.

हिंसा, पैसा, सुरंगें और निजी सेना- ऐसी होती है ड्रग तस्करों की दुनिया

इन ड्रग तस्करों के कमाने, धंधे को बढ़ाने, दुश्मनों को निपटाने के तरीको अजीबोगरीब थे.

जब अमिताभ ने चुनाव लड़कर तोड़े कई रिकॉर्ड और आहत होकर छोड़ दी राजनीति

अमिताभ बच्चन लंबे समय तक दिलों पर राज करने वाले अभिनेता के अलावा नेता भी रह चुके हैं, जानिए उनके पॉलिटिकल करियर के बारे में.

सिर पर गोबर घिसने, अंडा फोड़ने के बाद क्या बढ़े ‘बाला’ के बाल, देखिए Trailer

आयुष्मान एक और चैलेंजिंग रोल के साथ इस फिल्म में दिखने वाले हैं. बाला 7 नवंबर को रिलीज होगी.

व्यंग्य: कांग्रेस को हार-जीत के मोह से दूर ले जाने के लिए इतनी छुट्टी लेते हैं राहुल गांधी

चुनाव से पहले और चुनाव के बाद राहुल गांधी निकल जाते हैं, कोई तो वजह होगी.

व्यंग्य: समाजवादी पार्टी ने निगल लिया एक उभरता हुआ एक्टिंग का सितारा, नाम-फिरोज खान

सारी दुनिया ने अपनी खुली आंखों से देखा कि फिरोज खान एक्सप्रेशन के साथ कैसे एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं.

क्यों ट्रोल हो गई बिहार की बाढ़ में फोटो खिंचाने वाली मॉडल, ये थी वजह

बिहार में बाढ़ की तस्वीरों के साथ इस मॉडल की तस्वीरें भी वायरल हो रही हैं जिसने पानी में उतरकर मुस्कराते हुए फोटोशूट कराया है.

व्यंग्य: पानी में फंसे सरकार तो आई आवाज ‘ठीके तो है नीतीश कुमार’

सुशील कुमार की वो तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं जिनमें उन्हें एनडीआरएफ बाढ़ से रेस्क्यू करती दिख रही है. साथ ही लोग सवाल भी पूछ रहे हैं.

किस डर की वजह से कश्मीर मामले को यूएन लेकर गए थे नेहरू?

गृहमंत्री अमित शाह ने एक बार फिर भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर हमला बोला है. पढ़िए उन हालात के बारे में जब नेहरू कश्मीर मसले को यूएन लेकर गए.

इस्लामोफोबिया का रोना रोने वाले इमरान के राज में नरक भोग रहे ये मुसलमान

इमरान खान उन तकरीरों में शिरकत करते हैं जहां अहमदियों के खिलाफ जहर उगला जाता है. कौन मानेगा इनको शांतिदूत?

व्यंग्य: ईडी बढ़ा सकती है देश में किसानों की संख्या, अजीत पवार से शुरुआत

शरद पवार की एक और पीढ़ी राजनीति में आने से बच गई. उन पर परिवारवाद का धब्बा लगने से बच गया.

जब इंदिरा गांधी से ली थी टक्कर, पढ़िए देव आनंद की जिंदगी के तीन किस्से

देव आनंद ने काले कपड़े पहनने क्यों छोड़ दिए और किस तरह इंदिरा गांधी का विरोध किया, पढ़िए उनके जन्मदिन पर ये किस्से.

जब 12 घंटों में बदल गई जिंदगी, पढ़िए अमिताभ बच्चन की जिंदगी के तीन अनजाने किस्से

अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड मिल रहा है. ये अवॉर्ड उनके फिल्मी करियर के साथ ही शुरू हुआ था.

16 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग, जिसने यूएन के मंच से दुनिया भर के नेताओं को लताड़ा

ग्रेटा थनबर्ग की अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को घूरते हुए फोटो वायरल हो रही है.

The Family Man: किसी हीरो की नकल नहीं, ये है नौकरी, बीमारी और फैमिली से जूझता जासूस

सीरीज खत्म होने पर बस एक लाइन याद रह जाती है. 'उन्हें सिर्फ एक बार जीतना होता है और हमें हर एक बार, वो भी सही तरीके से.'

आसान नहीं पाकिस्तान में इमरान खान होना!

पाकिस्तान में कोई उन्हें हीरो समझता होगा, कोई विलेन मानता होगा, लेकिन असल में वो हीरो या विलेन नहीं, बहुत मजबूर आदमी हैं.