डब्ल्यूएचओ की किस बात पर हरभजन ने कसा तंज? क्या वाकई ये संगठन सिर्फ डराता रहता है?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) प्रमुख ने कहा कि इतिहास हमें सिखाता है कि प्रकोप और महामारी जीवन का एक तथ्य है, अगली महामारी आएगी तो दुनिया को तैयार होना चाहिए.

कैप्टन विक्रम बत्रा की 46वीं जयंती: खौफ खाती थी पाकिस्तान की सेना, पढ़ें- क्यों दिया था ‘शेरशाह’ कोडनेम

कैप्टन विक्रम बत्रा (Vikram Batra) वो थे जिन्होंने कारगिल के 5 बेहद महत्वपूर्ण प्वॉइन्ट्स पर तिरंगा लहराने में अहम भूमिका निभाई थी. कैप्टन विक्रम बत्रा के किस्से सिर्फ हिंदुस्तान की धरती और यहां के लोग ही बयां नहीं करते बल्कि पाकिस्तान में भी उनकी बहादुरी बहुत मशहूर है.

सावधान रहें…घबराएं नहीं, घट रही मृत्यु दर और बढ़ रहा है रिकवरी रेट, ये रहे कोरोना के 10 दिनों के आंकड़े

देश में रोज़ाना ठीक होने वाले मरीज़ों का आंकड़ा बढ़ रहा है, जबकि मृत्यु दर में भी कमी आ रही है. ऐसे में कोरोना की बेहतर स्थिति में स्वास्थ्यकर्मियों की मेहनत रंग लाती दिखाई दे रही है.

‘छन से जो टूटे कोई सपना…’ महाराष्ट्र में पवार-राजस्थान में पायलट की घर वापसी, आखिर भारी पड़े ‘महारथी’

सबकुछ जुड़ने के बीच राजस्थान की सियासत (Rajasthan Politics) में एक राजनीतिक सपना टूट गया, बिल्कुल वैसे ही जैसे कुछ महीनों पहले महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी एक सपना टूटा था, वहां भी एक महत्वकांक्षा नंबर गेम और सियासत के महारथियों के आगे हार गई.

पैंगोंग क्लैश से पहले अप्रैल में ही LAC पर चीनी सैनिकों ने शुरू कर दी थी हरकत

स्थिति की गंभीरता को पहली बार तब स्वीकार किया गया जब 17-18 मई के बाद चीनी सैनिक (Chinese Troops) फॉक्सहोल पॉइंट में चले गए थे. जो कि पैंगोंग में फिंगर 4 पर नॉर्थबैंक के दक्षिणी छोर पर और ग्रीन टॉप पर था.

अमिताभ बच्चन फैमिली तक कैसे हुई Coronavirus की दस्तक, कहीं ये वजह तो नहीं ?

अमिताभ (Amitabh Bachchan) के साथ अभिषेक बच्चन भी कोरोनावायरस पॉजिटिव (Coronavirus Positive) पाए गए हैं, ऐसे में एक बड़ा सवाल है जो लगातार उठ रहा है, कि आखिर बच्चन परिवार के घर तक कोरोनावायरस कैसे पहुंचा?

Happy Fathers Day 2020: एक बेटे का पिता के नाम Open Letter- ‘आयरन मैन मुस्कुराते नहीं’

Fathers Day 2020: पता है सबसे मुश्किल चीज़ क्या है चट्टान का टूटना, इमारतों का धराशाई होना, पहाड़ों का अपने अस्तित्व को खो देना और जो सबसे ज्यादा तकलीफ देह है वो है अपने पिता का बिखर जाना.

सामना ने लिखा- Chinese प्रोडक्ट के बायकॉट का स्वागत किया जाए

सामना (Saamna) ने लिखा है कि चीनी वस्तुओं (Chinese Products) के बहिष्कार के लिए एक आंदोलन शुरू हो चुका है. इसे एक तरह से चीन की खुराफातियों के खिलाफ बम हमला ही कहा जाएगा.

आखिर कैसा रहा पायलट से पॉलिटिक्स तक का राजीव गांधी का सफर? पढ़ें पूरी STORY

राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) की मुलाकात एल्बिना से हुई. दोनों के बीच प्यार हुआ और दोनों ने शादी कर ली. शादी के बाद एल्बिना को नया नाम सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) मिला.