बिहार में गर्मी का कहर जारी, लू लगने से 44 लोगों की मौत

बिहार में गर्मी का कहर लगातार जारी है. पटना में गर्मी ने 53 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

पटना: बिहार में लू लगने से अब तक 44 लोगों की मौत हो चुकी है. मौसम विभाग के पटना कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राज्य की राजधानी में शनिवार को अधिकतम तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस अधिक था. गया अस्पताल से 17 लोगों के मौत की पुष्टि हुई है.

बिहार में गर्मी का कहर लगातार जारी है. पटना में गर्मी ने 53 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. शनिवार को पटना तब बिहार का सबसे गर्म शहर बना, जब तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

मौसम विभाग ने पटना, गया और भागलपुर जिलों में रविवार को भी भीषण गर्मी रहने और पूर्णिया जिले में बारिश अथवा गरज या धूल के साथ आंशिक रूप से बादल छाए रहने का पूर्वानुमान जताया है. विभाग के अनुसार बिहार में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के 22-23 जून तक आने की उम्मीद है.

डॉ. विजय कृष्ण प्रसाद ने बताया कि अभी भी गया अस्पताल में 44 मरीजों का इलाज चल रहा है. मरीजों के समुचित इलाज के लिए अस्पताल प्रबंधन ने हरसंभव व्यवस्था की है. मरीजों के लिए अलग से बेड लगाए गए हैं. चिकित्साकर्मियों की संख्या भी बढ़ाई गई है. पर्याप्त मात्रा में दवाइयां उपलब्ध हैं. जो भी मरीज यहां आ रहे हैं, उनका समुचित इलाज अस्पताल के चिकित्सकों के द्वारा किया जा रहा है. मरीजों की स्थिति से जिला प्रशासन को भी अवगत कराया जा रहा है.

डॉ. विजय कृष्ण प्रसाद ने बताया कहा कि सबसे अधिक गया जिले से मरीज यहां इलाज के लिए भर्ती हो रहे हैं. इसके अलावा नवादा, औरंगाबाद और झारखंड के चतरा जिला के हंटरगंज से मरीज यहां इलाज के लिए पहुंचे हैं.

ये भी पढ़ें- स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की मौजूदगी में बच्ची की मौत, मुजफ्फरपुर में इंसेफेलाइटिस से 91 की गई जान

ये भी पढ़ें-  मुजफ्फरपुर में AES से 90 बच्चों की मौत: मासूमों को मिले सही इलाज, जारी है टीवी9 भारतवर्ष की मुहिम