बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत, अगले 48 घंटे के लिए अलर्ट जारी

मौसम विभाग (Meteorological Department) ने अगले 48 घंटे में भारी बारिश और वज्रपात (Lightning Strikes) के लिए अलर्ट जारी किया है. मंगलवार को बिहार (Bihar) के अलग-अलग जिलों में बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत हुई थी.

बिहार में गुरुवार को एकबार फिर आकाशीय बिजली (Lightning Strikes) गिरने से बिहार के अलग अलग जिलों में अब तक 26 लोगों की मौत हुई है, जिसमें समस्तीपुर जिले में 8 लोगों की मौत तब हुई, जब वे खेतों में काम कर रहे थे. वहीं पटना जिले के दुलहिन बाजार में बिजली (वज्रपात) गिरने से 6 लोगों की मौत हुई है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संवेदना व्यक्त करते हुए बिजली गिरने के कारण जान गंवाने वाले 26 लोगों के परिवार को 4-4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

इधर, आपदा प्रबंधन विभाग (Disaster Management Department) के एक अधिकारी ने बताया कि जिलों से फोन पर मिली सूचना के मुताबिक, राज्य में गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत हो गई है. इनमें पटना से 6, समस्तीपुर-7, पूर्वी चंपारण-4, प.चंपारण-1, शिवहर-2, कटिहार-3, मधेपुरा-2 और पूर्णिया के एक व्यक्ति की मौत बिजली की चपेट में आने से हो गई है.

अगले 48 घंटे में भारी बारिश और वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी

इससे पहले मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में भारी बारिश और वज्रपात के लिए अलर्ट जारी किया है. बता दें कि मंगलवार को बिहार के अलग-अलग जिलों में वज्रपात से 11 लोगों की मौत हुई थी जबकि 26 जून को राज्य में वज्रपात की चपेट में आने से 96 लोगों की मौत हो गई थी.

मधेपुरा जिला के सदर ब्लॉक, कुमाखंड और मुरलीगंज में आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी जारी की गई है. इसी के साथ-साथ लोगों से अपने घरों में रहने की अपील की गई है. नीतीश सरकार (Nitish Government) ने वज्रपात से मारे गए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का मुआवजा देने का फैसला लिया है. इस साल बिहार में बिजली गिरने से ज्यादा मौतें हो रही हैं. किसानों और आम लोगों से अपील की गई है कि वे इस दौरान जहां तक हो सके, खुले में जाने से बचें.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts