VIDEO: दरभंगा स्टेशन पर हिंदी, अंग्रेजी के साथ मैथिली भाषा में शुरू हुई अनाउंसमेंट

मिथिला के दरभंगा जंक्शन पर मैथली भाषा में रेलवे द्वारा किया गया यह प्रयोग आम लोगों को खूब भा रहा है.

मिथिला की अघोषित कहे जानेवाली राजधानी दरभंगा के रेलवे स्टेशन पर अब हिन्दी, अंग्रेजी भाषा के साथ साथ मैथिली भाषा में भी उद्घोषना शुरु हो गयी है. रेलवे ने इसी साल के मार्च महीने से इसे शुरू किया गया है.

मिथिला के दरभंगा जंक्शन  पर मैथली भाषा में रेलवे द्वारा  किया गया यह प्रयोग न सिर्फ आम लोगों को खूब भा रहा है बल्कि गांव घर के लोगों के लिए भी वरदान साबित हो रहा है. खास कर उन लोगों को इसका जबरदस्त फायदा मिल रहा है जो सिर्फ अपनी लोकल भाषा को ही समझ सकते है. मैथिली भाषा में उद्घोषणा होने से उन्हें अपनी ट्रेन की सही जानकारी मिल जाती है और वे आसानी से ट्रेन पकड़ पाते है.

इससे पहले दरभंगा स्टेशन पर कई मिथिला पेंटिंग लगा कर स्टेशन को सजाया गया था. इसके साथ ही एक पूरी ट्रेन बिहार संपर्क क्रांति के सभी कोच को भी मिथिला पेंटिंग कर सजाया सांवरा गया था और अब मिथिला के दरभंगा  स्टेशन पर मैथिलि में उद्घोषणा से लोग काफी खुश है. उनकी मानें तो मैथिलि इनकी   मातृभाषा है और रेलवे के इस प्रयोग से न सिर्फ दूर दराज और दूसरे प्रदेश से आनेवाले लोगों को भी मैथली भाषा सुनने और समझने का मौका मिलेगा बल्कि इसका प्रचार और प्रसार भी होगा.

अनाउंसिएटर सोनी झा ने बताया कि वो हिंदी, अंग्रेजी और मैथली भाषा में लोगों को ट्रेन आने और जाने की अनाउंसमेंट करती हैं. यहां के लोग मैथिलि भाषा को ज्यादा बारीकी से और जल्द समझ जाते हैं. उन्हें अपनी भाषा में यात्रियों को समझने में ज्यादा कठिनाई नहीं आती और लोग भी उनसे मैथिलि में ही ट्रेन की स्थिति जानने की इच्छा रखते हैं.

ये भी पढ़ें- त्योहारों से पहले केंद्र सरकार ने दिया तोहफा, रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा 78 दिन का बोनस