17 अगस्त से फरार बाहुबली विधायक अनंत सिंह दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में

अनंत सिंह के घर से AK-47 रायफल और हैंड ग्रेनेड बरामद की गई थी.

दिल्ली की साकेत कोर्ट के मैट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने अनंत सिंह के सरेंडर मामले को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के पास रैफर कर दिया है. मजिस्ट्रेट ने अनंत सिंह को संबंधित कोर्ट को सौंपने के लिए कहा है. लेकिन क्योंकि मैट्रोपोलिन मजिस्ट्रेट को अनंत सिंह को बिहार भेजने की पॉवर नहीं है, इसलिए दिल्ली पुलिस अनंत सिंह का मेडिकल चेकअप करवाने के लिए ले जा रही है.

मेडिकल टेस्ट के बाद दिल्ली पुलिस अनंत सिंह को ड्यूटी मजिस्ट्रेट या CMM के सामने पेश करेगी. इस बीच बिहार पुलिस पहुंच जाती है तो उन्हें अनंत सिंह की कस्टडी दी जा सकती है. वर्ना कोर्ट दिल्ली पुलिस को अनंत सिंह को बिहार के संबंधित कोर्ट में सौंपने का आदेश देगी. फिलहाल अनंत सिंह दिल्ली पुलिस के सी आर पार्क थाना पुलिस की गिरफ्त में है.

बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह आत्‍मसमर्पण करने दिल्ली की साकेत कोर्ट पहुंचे हैं. वो 17 अगस्त से फरार चल रहे थे. अनंत सिंह के घर से AK-47 रायफल और हैंड ग्रेनेड बरामद की गई थी. अनंत सिंह बिहार के मोकामा से निर्दलीय विधायक हैं.

अनंत सिंह ने सरेंडर एप्लिकेशन में ग्रेटर कैलाश का पता दिया था, इस लिए इस कोर्ट में मामला लगा है. 2:30 बजे एप्लिकेशन पर सुनवाई होगी. सरेंडर के बाद अनंत सिंह को दिल्ली पुलिस तिहाड़ जेल लेकर जाएगी और बिहार पुलिस को सूचित करेगी. उसके बाद बिहार पुलिस कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड पर लेकर बिहार जाएगी.

इससे पहले गुरुवार को अनंत सिंह का एक वीडियो सामने आया था. वीडियो में अनंत सिंह ये कहते हुए नजर आए कि ‘हम पुलिस को सरेंडर नहीं करेंगे. हम जाकर कोर्ट में सरेंडर करेंगे. हमको न्यायलय पर भरोसा है. सरेंडर हम पुलिस में नहीं होंगे.’

अनंत सिंह ने कहा कि मुझे मीटिंग से पता चल गया. इंटर पीसी में हुई मीटिंग में ललन सिंह था, नीरज था. अब चाहे कुछ भी हो जाए, मैं पुलिस को सरेंडर नहीं करूंगा.

मंगलवार को जारी हुआ था अरेस्ट वारंट
बता दें कि मंगलवार को पटना की एक अदालत ने अनंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया था. पटना के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) कांतेश कुमार मिश्र ने बताया था कि विधायक की तलाश में विशेष जांच टीम का गठन किया गया है और विभिन्न थानों की पुलिस संभावित स्थानों पर छापेमारी कर रही है.

पुलिस ने शनिवार रात विधायक के पटना स्थित सरकारी आवास पर दबिश दी, लेकिन तब तक वह वहां से फरार हो गए थे. पुलिस ने विधायक के आवास से एक तलवार बरामद की और एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था.

कभी CM नीतीश के थे करीबी
मालम हो कि अनंत सिंह पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी थे. वह जनता दल (यूनाइटेड) से भी विधायक रह चुके हैं. साल 2015 के विधानसभा चुनाव से पहले वह जद (यू) से अलग हो गए थे.

इस बार के लोकसभा चुनाव में अनंत सिंह की पत्नी नीलम सिंह मुंगेर संसदीय क्षेत्र से जद (यू) के ललन सिंह के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरी थीं, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़ें-

भगोड़े बाहुबली विधायक अनंत सिंह के खिलाफ पुलिस जारी कर सकती है लुक आउट नोटिस

बाहुबली विधायक अनंत सिंह विदेश भागने की तैयारी में, जारी हो सकता है लुकआउट नोटिस