‘मैं उस समय चिंतन मनन कर रहा था’ अश्विनी चौबे ने दी ऊंघने पर सफाई

रविवार को मुजफ्फरपुर में केंद्रीय डॉ मंत्री हर्ष वर्धन ने चमकी बुखार को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ऊंघते नजर आए थे.

नई दिल्ली: बिहार में चमकी बुखार से बच्चों की मौत का आंकडा बड़ रहा है. रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने अस्पताल का दौरा किया था. उन्होंने मुजफ्फरपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे उनके साथ थे. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अश्विनी चौबे ऊंघते नजर आए थे.

प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था. लोगों ने मंत्री अश्विनी चौबे के इस असंवेदनशील रवैये को गलत ठहराते हुए सोशल मीडिया पर गुस्सा जाहिर किया था.

इसके बाद मंत्री अश्विनी चौबे ने सोमवार को सफाई देते हुए मीडिया को बयान दिया कि ”मैं चितंन मनन करता हूं. मैं उस समय चिंतन मनन कर रहा था.”

मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार का कहर

गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से हर रोज बच्चों की मौत की खबरें आ रही हैं. टीवी9 भारतवर्ष ने इसको लेकर एक मुहिम चलाई जिसके बाद शासन प्रशासन की नींद टूटी. टीवी9 भारतवर्ष की मुहिम के बाद बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्निवी चौबे और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने मुजफ्फरपुर का दौरा किया था. चमकी बुखार से होने वाली मौतों का आंकड़ा 103 तक पहुंच गया.

मौत का कारण

उधर, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इलाके में चिलचिलाती गर्मी, नमी और बारिश के ना होने के चलते हाइपोग्लाइसीमिया (शरीर में अचानक शुगर की कमी) के कारण लोगों की मौत हो रही है. कुछ रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया था कि चमकी के कारण हो रही मौतों का कारण लीची भी हो सकती है। कहा जा रहा है कि मुजफ्फरपुर के आसपास उगाई जाने वाली लीची में कुछ जहरीले तत्व हैं.