जलजमाव के बाद बिहार में डेंगू का आतंक, 1400 पार पहुंची मरीजों की संख्या

डेंगू की वजह से पाटलिपुत्र अंचल, बांकीपुर अंचल, कंकड़बाग, अजीमाबाद, पटना सिटी और राजेंद्रनगर में सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं.
Dengue in Bihar, जलजमाव के बाद बिहार में डेंगू का आतंक, 1400 पार पहुंची मरीजों की संख्या

पटना समेत बिहार के दर्जनभर जिलों में मूसलधार बारिश, जल-जमाव और बाढ़ की स्थिति के नियंत्रण में आने के बाद राज्य मच्छरों के आतंक से जूझ रहा है. पटना में 1000 से ज्यादा लोग डेंगू की चपेट में आ गए हैं वहीं बिहार  राज्य में इसके मरीजों की संख्या 1400 के करीब पहुंच गई.

डेंगू की वजह से पाटलिपुत्र अंचल, बांकीपुर अंचल, कंकड़बाग, अजीमाबाद, पटना सिटी और राजेंद्रनगर में सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं. लोगों के मुताबिक डेंगू के भयानक प्रकोप के बावजूद कई इलाकों में ब्लीचिंग पाउडर और चूने का छिड़काव नहीं हुआ है.

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे राजधानी के PMCH (पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल) में डेंगू से पीड़ित मरीजों का हालचाल जानने पहुंचे.

Dengue in Bihar, जलजमाव के बाद बिहार में डेंगू का आतंक, 1400 पार पहुंची मरीजों की संख्या

अश्विनी चौबे ने चिकित्सकों से जानकारी लेने के साथ-साथ मरीजों से भी मुलाकात की और दिशा निर्देश दिए.

हालांकि, पीएमसीएच के डेंगू वार्ड में भी अश्विनी चौबे को मरीजों के परिजन की नाराजगी झेलनी पड़ी. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्निनी चौबे के चेहरे पर पटना में एक युवक ने स्याही फेंक दी. स्याही फेंकने के बाद आरोपी युवक फरार हो गया.

गौरतलब है कि पटना में 15 दिनों के जलजमाव के बाद से ही लोग आक्रोशित हैं. इसके पहले उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी जो खुद जल जमाव से पीड़ित थे और 3 दिन बाद इन्हें रेस्क्यू कर बाहर निकाला गया था. उन्हें भी लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ी थी.

Related Posts