यदि कुछ गलत नहीं किया तो चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें रिया चक्रवर्ती: बिहार पुलिस

बिहार पुलिस (Bihar Police) के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने कहा, "रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को अपना पक्ष रखना चाहिए. हमारी उनसे कोई दुश्मनी नहीं है, लेकिन अगर वह इसी तरह भागती रहीं तो फिर उनके लिए मुश्किल हालात हो जाएंगे.

Bihar police over rhea chakraborty, यदि कुछ गलत नहीं किया तो चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें रिया चक्रवर्ती: बिहार पुलिस

बिहार पुलिस (Bihar Police) ने यह स्वीकार किया कि वह अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के कथित आत्महत्या मामले की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को ‘लोकेट’ नहीं कर सकी है. बिहार पुलिस ने दलील दी है कि उसका लक्ष्य किसी निर्दोष को सजा दिलाना नहीं है और रिया ने अगर कुछ गलत नहीं किया है तो वह पुलिस के साथ चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें और सामने आकर स्थिति को स्पष्ट करें.

सुशांत मामले से जुड़े मामलों पर की बात

IANS की रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने शनिवार को मीडिया से खुलकर बात की और इस मामले से जुड़ी कई बातों को साफ करने की कोशिश की. इसी क्रम में पांडेय ने एक टीवी चैनल से कहा कि अगर रिया खुद को दोषी नहीं मानती हैं तो फिर वह पुलिस के साथ चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें और सामने आकर अपना बयान दर्ज कराएं.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

“रिया भाग क्यों रही हैं?”

पांडेय ने कहा, “रिया भाग क्यों रही हैं? अगर वह दोषी नहीं हैं तो सामने आएं और जांच में पुलिस की मदद करें. हमारा लक्ष्य किसी निर्दोष को सजा दिलाना नहीं है. हम चाहेंगे कि वह सामने आकर अपना पक्ष रखें और अगर वह खुद को निर्दोष साबित करने में सफल रहीं तो हम उन्हें हाथ भी नहीं लगाएंगे, लेकिन अगर वह हमसे भागेंगीं तो मैं इतना जरूर कहूंगा कि हम एक न एक दिन उन तक जरूर पहुचेंगे और तब दूध का दूध और पानी का पानी हो ही जाएगा.”

मामले की सुनवाई होगी 5 अगस्त को

सुशांत ने 14 जून को मुम्बई में आत्महत्या की थी और उनके पिता केके सिंह (KK Singh) ने 25 जुलाई को पटना में FIR दर्ज कराई, जिसमें रिया को मुख्य आरोपी बनाया गया है. पटना में FIR दर्ज कराए जाने के बाद बिहार पुलिस भी जांच के लिए मुम्बई पहुंच चुकी है.

इस बीच रिया ने पूरे मामले की सुनवाई पटना की जगह मुंबई में कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी है. सुशांत के पिता ने भी अपने वकील विकास सिंह (Vikas Singh) के जरिए इस मामले को पटना में ही रखने के लिए काउंट पिटीशन दायर किया है. इस मामले की सुनवाई पांच अगस्त को होनी है.

“वीडियो की बजाय सामने आएं रिया”

उससे पहले रिया लापता हैं. बिहार पुलिस की टीम उनके फ्लैट पर भी गई थी लेकिन वह वहां नहीं मिलीं. इसी के बाद पांडेय ने स्वीकार किया कि बिहार पुलिस रिया को ‘लोकेट’ नहीं कर पाई है. रिया ने बीते दिनों एक वीडियो जारी कर खुद को निर्दोष बताया. इसी पर पांडेय ने कहा कि वीडियो के जरिए खुद को निर्दोष बताने की जगह रिया पुलिस के सामने अपना बयान दर्ज कराएं और यही उनके लिए सही होगा.

“सबूत मिलने पर पाताल से भी खोज लाएंगे”

पांडेय ने कहा, “रिया को अपना पक्ष रखना चाहिए. हमारी उनसे कोई दुश्मनी नहीं है, लेकिन अगर वह इसी तरह भागती रहीं तो फिर उनके लिए मुश्किल हालात हो जाएंगे. मैं यकीन दिलाता हूं कि बिहार पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है और जिस दिन हमें  उनके खिलाफ सबूत मिल जाएगा, हम उन्हें पाताल से भी खोज निकालेंगे. बिहार पुलिस इस काम में पूरी तरह सक्षम है.”

मालूम हो कि सुशांत के पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ उनके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने को लेकर पटना के राजीवनगर थाना में एक मामला दर्ज करवाया है. मामला दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस मुंबई पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts