शरजील इमाम के चाचा बोले- जैसे ही मुझे मिलेगा, पुलिस के हवाले कर दूंगा

शरजील के चाचा ने कहा, "मुझे नहीं पता कि शरजील इस समय कहा है. मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा है. मैं जानता हूं कि दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा."
Jawaharlal Nehru University, शरजील इमाम के चाचा बोले- जैसे ही मुझे मिलेगा, पुलिस के हवाले कर दूंगा

भड़काऊ भाषण देने के मामले में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र नेता शरजील इमाम के घरवालों ने टीवी9 भारतवर्ष से खास बातचीत की है. इस बातचीत में शरजील के चाचा ने कहा कि वह जब भी मुझे मिलेगा, मैं उसे पुलिस के हवाले कर दूंगा.

उन्होंने कहा कि ‘शरजील इमाम के पिता अकबर इमाम का निधन हो चुका है. वो एक सामाजिक कार्यकर्ता थे. राजनिति में कई उच्च पदों पर रहे और उन्हें बिहार में लगभग सभी लोग जानते हैं. मैं उनके साथ चुनाव प्रचार में जाता था.’

उन्होंने कहा, “हमारा परिवार हमेशा से सामाजिक रहा है. राजनीति से लंबे से जुड़े रहे हैं. अकबर इमाम ने साल 2005 में जहानाबाद विधानसभा सीट से जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ा था.”

Jawaharlal Nehru University, शरजील इमाम के चाचा बोले- जैसे ही मुझे मिलेगा, पुलिस के हवाले कर दूंगा
शरजील इस्लाम. (फाइल फोटो)

उन्होंने कहा कि ‘शरजीज इमाम अपने पिता का बड़ा लड़का है. शरजील जेएनयू का छात्र रहा है. वह पढ़ाई में काफी तेज था. शरजील के दादा जी तीस साल तक सरपंच रहे हैं. उन्हें उस समय कोई चुनौती देने वाला नहीं था.’

शरजील के चाचा ने कहा, “मुझे नहीं पता कि शरजील इस समय कहा है. यहां पर पुलिस भी आई थी. मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा है. न्यायालय जो भी फैसला करेगा, मैं उसे स्वीकार करूंगा. मैं जानता हूं कि दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.”

उन्होंने कहा कि दिल्ली में चुनाव है, इसलिए इस मुद्दे को उछाला जा रहा है. शरजील जब भी मुझे मिलेगा, मैं उसे पुलिस के हवाले कर दूंगा. एक बार फिर कहता हूं कि मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा है. न्यायालय से न्याय मिलेगा.

शरजील इमाम को जेएनयू प्रशासन ने 3 फरवरी से पहले यूनिवर्सिटी प्रशासन के सामने अपना बयान दर्ज कराने को कहा है. वहीं, दिल्ली पुलिस के क्राइम ब्रांच की पांच टीमों को शरजील को गिरफ्तार करने के लिए लगाया गया है. पुलिस ने मुंबई, पटना और दिल्ली में छापे भी मारे हैं.

बता दें कि शरजील की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने बिहार के जहानाबाद जिला स्थित उसके पैतृक आवास पर छापेमारी की है. वहीं उसकी मां का आरोप है कि उसके बेटे के बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है और उसके परिवार को परेशान किया जा रहा.

जहानाबाद के पुलिस सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी की टीम ने शरजील की गिरफ्तारी के लिए जहानाबाद के काको स्थित पैतृक आवास पर रविवार को छापेमारी की. इस दौरान घर के सदस्यों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, हालांकि शरजील वहां नहीं मिला.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली चुनाव: इतनी ओछी-नीची राजनीति करने वाला CM मैंने नहीं देखा, अमित शाह का केजरीवाल पर हमला

बसों-कारों को फूंकने वाले प्रदर्शनकारियों को कांग्रेस नेता पहुंचाते थे पैसे! सोनिया-राहुल दें जवाब: शिवराज

बड़ा खुलासा : PFI की फंडिंग से CAA के खिलाफ हल्‍लाबोल, सिब्बल और इंदिरा जयसिंह को दिए लाखों

Related Posts