बिहारः मुजफ्फरपुर शेल्टर होम से छुड़ाई गई लड़की से चलती कार में गैंगरेप, 4 पर केस दर्ज

पीड़िता ने बताया कि चारों आरोपी एक ही परिवार से आते हैं और इनमें से दो भाई हैं.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम से छुड़ाई गई एक पीड़िता के साथ गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़िता के साथ बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के बेतिया में चार लोगों ने चलती कार में दुष्कर्म किया. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

बेतिया के एसएचओ शशि भूषण ने बताया कि शनिवार शाम को पीड़िता को गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया और रविवार को उसकी मेडिकल जांच की गई. उन्होंने बताया कि अभी मेडिकल जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.

‘जबरन कार में बिठाया’
पीड़िता ने पुलिस में दर्ज शिकायत में कहा कि शुक्रवार शाम को चार लोगों ने उसे जबरदस्ती गाड़ी में बिठा लिया और चलती गाड़ी में उसका रेप किया. चारों आरोपियों ने अपने चेहरे पर मास्क लगाया हुआ था. लेकिन मैंने उनका मास्क हटा दिया और मैं उन्हें पहचान गई.

पीड़िता ने बताया कि चारों आरोपी एक ही परिवार से आते हैं और इनमें से दो भाई हैं. पीड़िता के मुताबिक, दुष्कर्म के बाद आरोपी उसे एक सूनसान जगह पर छोड़कर फरार हो गए.

2018 में हुआ मामले का खुलासा
बता दें कि साल 2018 में मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड मामले ने काफी सुर्खियां बटोरी थी. टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस की रिपोर्ट में मुजफ्फरपुर स्थित बालिका गृह में लड़कियों के साथ ज्यादती का खुलासा हुआ था.

इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी दी गई थी. राज्य सरकार ने लड़कियों को छुड़ाकर शेल्टर होम और कुछ को घर भेज दिया था. बृजेश ठाकुर यह शेल्टर होम चलाता था. ठाकुर समेत 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी.

ये भी पढ़ें-

UP: पिता का दोस्त बना हैवान, 6 साल की मासूम बच्ची का रेप कर उतारा मौत के घाट

MP: तेज बारिश से रतलाम में बिगड़े हालात, पेड़ पर गिरी आसमानी बिजली, देखें वीडियो

गुलाम नबी आजाद की SC में याचिका, परिवार से मिलने कश्मीर जाने की मांगी अनुमति, आज होगी सुनवाई