विवादों में तेजस्वी का ‘बेरोजगारी हटाओ रथ’, JDU मंत्री का दावा- आर्थिक जालसाजी कर खरीदी गई बस

RJD नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) 23 फरवरी से यात्रा शुरू करने वाले हैं. इस यात्रा का नाम 'बेरोजगारी हटाओ' यात्रा रखा है.
Tejashwi yadav berozgari hatao yatra, विवादों में तेजस्वी का ‘बेरोजगारी हटाओ रथ’, JDU मंत्री का दावा- आर्थिक जालसाजी कर खरीदी गई बस

बिहार (Bihar) में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने तैयारी शुरू कर दी हैं. पार्टी ने बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा बनाया है. बेरोजगारी के मुद्दे पर बिहार सरकार को घेरने के लिए RJD नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) 23 फरवरी से यात्रा शुरू करने वाले हैं. इस यात्रा का नाम ‘बेरोजगारी हटाओ’ यात्रा रखा है.

JDU नेता और बिहार सरकार में मंत्री नीरज कुमार ने तेजस्वी यादव के ‘बेरोजगारी हटाओ रथ’ पर आर्थिक जालसाजी के जरिए बस खरीदने का दावा किया है.

उन्होंने कहा कि बेरोजगारी हटाओ रथ तेजस्वी यादव ने मंगल पाल से कैसे लिया. गाड़ी के पेपर पर पूर्व विधायक अनिरुद्ध यादव का नाम कैसे है. मंगल पाल BPL (गरीबी रेखा) में आते है तो तेजस्वी को बस खरीदकर कैसे दी.

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ज्ञान का आतंक मचाते हैं. वह बताएं आर्थिक जलालसाजी करके बस किसने खरीदी. उन्होंने मंगल पाल को आर्थिक जालसाजी में फसाया. बस किसी के नाम पर, मोबाइल नंबर किसी और का है.

तेजस्वी यादव बताएं बस किसने दी. कैसे खरीदी गई. क्या डील हुई बस के लिए. राज्यसभा और विधान परिषद के लिए तो डील नहीं हुई, तेजस्वी जबाब दें.

तेजस्वी यादव का जवाब

वहीं RJD नेता तेजस्वी यादव ने इस पर अपनी सफाई दी है. तेजस्वी ने कहा, “पार्टी ने बस को किराए पर लिया है. साथ ही पार्टी सभी कागजात के साथ पूरी स्थिति साफ करेगी.” बता दें कि RJD के पूर्व विधायक अनिरुद्ध यादव ने यह बस अपने स्टाफ के एक कर्मचारी मंगल पाल के नाम पर खरीदी है, जिसका नाम बीपीएल सूची में दर्ज है.

ये भी पढ़ें-

कन्हैया के काफिले पर फिर हुआ हमला, जन-गण-मन यात्रा के दौरान हुए पथराव में कई गाड़ियों के शीशे टूटे

बेगूसराय SP पर भड़के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, कहा – इस्‍तीफा दे के यहां से निकल जाएं क्‍या?

Related Posts