मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में CBI का खुलासा, कहा- नहीं हुआ किसी लड़की का मर्डर

सीबीआई की तरफ से कोर्ट में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल पेश हुए हैं. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि हत्या का कोई सबूत नहीं मिला है.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल की है. रिपोर्ट में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. CBI को जांच में हत्या का कोई सबूत नहीं मिला है. CBI ने रिपोर्ट में कहा कि किसी लड़की की हत्या शेल्टर होम में नहीं हुई, जो कंकाल और हड्डियां मिलीं वह किसी और बालिग लोगों की थी.

अटॉर्नी जनरल ने कोर्ट को बताया कि CBI जांच में साफ हुआ है कि किसी नाबालिग की शेल्टर होम में हत्या नहीं हुई है. CBI ने कहा कि जिनकी हत्या होने का शक था वह सभी 35 लड़कियां जीवित मिलीं हैं.

सीबीआई की तरफ से कोर्ट में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल पेश हुए हैं. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि हत्या का कोई सबूत नहीं मिला है. जिनके मर्डर का शक था, वे सभी सभी 35 लड़कियों को जीवित पाया गया है. वहां से जो हड्डियां मिली हैं, जो कुछ अन्य व्यस्कों की हैं. दावा किया गया है कि सीबीआई जांच में साफ हो गया है कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में किसी भी नाबालिक की हत्या नहीं की गई है.

बता दें, सीबीआई ने सोमवार को उच्चतम न्यायालय से कहा था कि मुजफ्फरपुर आश्रय गृह यौन उत्पीड़न के 17 मामलों में जांच पूरी हो गई है और जिलाधिकारियों सहित संलिप्त सरकारी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट दायर कर दी गई है.