RJD नेता का बड़ा बयान- नीतीश छोड़ दें NDA तो हम उन्हें बना सकते हैं महागठबंधन का चेहरा

शिवानंद तिवारी ने कहा कि 'यह हर कोई देख सकता है कि भाजपा से मतभेदों को लेकर जदयू अध्यक्ष किस तरह के बड़े दबाव में हैं.'

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश को लेकर बड़ा बयान दिया. शिवानंद ने कहा कि अगर नीतीश दोबारा उन्हें ज्वाइन करने का फैसला लेते हैं तो उनकी पार्टी को उन्हें महागठबंधन का नेता मानने में कोई दिक्कत नहीं है.

‘नीतीश के BJP से हैं मतभेद’
शिवानंद ने कहा कि ‘यह हर कोई देख सकता है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से मतभेदों को लेकर जदयू अध्यक्ष किस तरह के बड़े दबाव में हैं. ये मदभेद तीन तलाक विधेयक और जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के समय साफ तौर पर देखा गया था.

राजद नेता ने कहा कि अगर नीतीश कुमार सांप्रदायिकता के खिलाफ लड़ने के लिए कोई कदम उठाते हैं तो हम उनका सपोर्ट करेंगे. उन्होंने कहा, “मुझे इस बात का विश्वास है कि अगर नीतीश एनडीए छोड़ने का फैसला लेते हैं तो राजद जरूर उनका सपोर्ट करेगी. अगर नीतीश एनडीए छोड़ते हैं और हम उनका सपोर्ट नहीं करते हैं तो लोग हमें बीजेपी का एजेंट कहने लगेंगे.”

‘धर्मनिरपेक्ष साख को लेकर सजग हैं नीतीश’
शिवानंद ने कहा, “मैं नीतीश कुमार और लालू यादव को पिछले कई सालों से जानता हूं. मैंने दोनों के साथ काम किया है. साल 1993 में जब समता पार्टी का गठन हुआ तो मैं नीतीश के लिए लालू से अलग हो गया था. मैंने यह मानता हूं कि नीतीश कुमार अपनी छवि को लेकर काफी सजग रहते हैं. वो अपनी धर्मनिरपेक्ष साख को लेकर काफी सजग हैं.”

उन्होंने कहा कि अगर लालू और नीतीश साथ आते हैं तो वो दोबारा एक मजबूत ताकत के रूप में उभेरेंगे. हम नीतीश की धर्मनिरपेक्ष साख और तीन तलाक विधेयक व जम्मू-कश्मीर पर उनके फैसले के साथ हैं.

ये भी पढ़ें-

उन्नाव गैंगरेप: AIIMS में लगेगी अदालत, पीड़िता-आरोपी का न हो आमना-सामना इसका खास इंतजाम

#MeToo: एम.जे अकबर मानहानि मामले में प्रिया रमानी ने दर्ज कराया अपना बयान

19 साल की बियांका ने US Open जीत कर रचा इतिहास, 23 बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन सेरेना को हराया