मुझे पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया- RJD नेता तेजस्वी यादव

पीएम नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद शामिल होंगे. गुरुवार 30 मई 2019 को होने वाले इस शपथ ग्रहण समारोह में 6500 मेहमान शामिल होने वाले हैं.

पटना. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को महागठबंधन की बैठक के बाद कहा कि मुझे या मेरी पार्टी को अभी तक पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह को लेकर कोई न्यौता नहीं मिला है. अगर न्यौता मिलता है तो यह तय पार्टी करेगी की मुझे आयोजन में जाना है या नहीं. बता दें कि महागठबंधन की बैठक में कांग्रेस से कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं हुआ. जल्द ही तेजस्वी यादव कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ दिल्ली में होने जा रही विपक्ष की समीक्षा बैठक में शामिल होंगे.

तेजस्वी यादव ने पार्टी की आगे की रणनीति को लेकर कहा कि हमें चुनाव में हार भले मिली हो लेकिन हम अपनी अगली रणनीति पर काम कर रहे हैं. हार के कारणों को लेकर बैठक हो रही है. इस दौरान कई बार महागठबंधन के टूटने की बात की गई है. मैं आपको बता देना चाहता हूं कि इस तरह की कोई भी बात पूरी तरह से बकवास है.

तेजस्वी ने जनादेश को बताया षडयंत्र

लोकसभा चुनाव 2019 में मिली करारी हार के बाद यहां बुधवार को महागठबंधन की समीक्षा बैठक हुई। बैठक में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख मुकेश सहनी भी शामिल हुए. हालांकि बैठक में कांग्रेस का कोई भी नेता उपस्थित नहीं हुआ. बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में तेजस्वी ने कहा कि उन्हें इस लोकसभा चुनाव में इस परिणाम की कल्पना और उम्मीद नहीं थी. उन्होंने इस परिणाम को एक षडयंत्र बताते हुए कहा, “जिनकी सभा में 200 से 300 लोग आते थे, जिनके चेहरे लटके रहते थे वे चुनाव जीत गए.”

उन्होंने महागठबंधन में किसी टूट से इंकार करते हुए कहा कि महागठबंधन एकजुट है और एकजुट रहकर जनता के बीच जाएंगे. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर पूछे गए सवाल पर तेजस्वी ने कहा कि यह न कोई पहली बार जीत या हार है, और न ही यह कोई अंतिम जीत या हार है.

 ये भी पढ़ें: रजनीकांत से लेकर बिल गेट्स तक, मोदी के शपथ समारोह की मेहमान होंगी ये हस्तियां

ये भी पढ़ें: जानिए क्या है राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सांसदों की सैलरी?

पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होंगे सोनिया, राहुल 

पीएम नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, राहुल गांधी और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद शामिल होंगे. गुरुवार 30 मई 2019 को होने वाले इस शपथ ग्रहण समारोह में 6500 मेहमान शामिल होने वाले हैं. 2014 में नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में 5000 मेहमान शामिल हुए थे.

पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होने के  लिए बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को भी न्‍योता भेजा गया था. ममता बनर्जी ने पहले तो कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही, लेकिन बुधवार को उन्‍होंने साफ इनकार कर दिया.

नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में सभी प्रदेशों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री और प्रमुख विपक्षी पार्टियों के नेताओं को आंमंत्रित किया गया है. सोनिया गांधी के अलावा आम आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी भी शामिल हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक, बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल, म्‍यांमार को भी न्‍योता भेजा गया है.

हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 303 सीटें जीती हैं, वहीं कांग्रेस का प्रदर्शन काफी बुरा रहा है. चुनाव के इस समर में कांग्रेस को सिर्फ 52 सीटें ही मिल पाई हैं.