EXCLUSIVE: घोटाले में फंसे नीतीश चाचा को थोड़ी भी शर्म नहीं आती- तेजस्वी यादव

RJD नेता तेजस्वी यादव ने TV9 भारतवर्ष से बातचीत में कहा कि वह महागठबंधन के जीतने पर राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाएंगे. साथ ही उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा.

पटना. राष्ट्रीय जनता दल के नेता व बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने TV9 के रिपोर्टर रुपेश कुमार से एक्सक्लूसिव बातचीत की.  इस बातचीत में तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उन्हें शर्म करने को कहा. तेजस्वी ने ये भी माना कि महागठबंधन के जीतने पर राहुल गांधी प्रधानमंत्री होंगे. सवाल-जवाब के जरिए तेजस्वी की TV9 से पूरी बातचीत-

रिपोर्टर- चुनावी महाभारत में तेजस्वी यादव अपने आप को कहां देखते हैं.

तेजस्वी-  हम तो जनता के साथ हैं. जनता के मुद्दे को उठाने का काम कर रहे हैं. सच के लिए लड़ रहे हैं, न्याय के किए लड़ रहे हैं और बिहार के हित के लिए लड़ रहे हैं. आप देखिएगा बिहार के लोग सबसे ज्यादा ठगे हुए महसूस कर रहे हैं. न तो विशेष पैकेज मिला. न बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिला. न नौजवानों को रोजगार मिला. न गरीबी हटी. न महंगाई कम हुई. न स्मार्ट सिटीज बने. न 15-15 लाख रुपये मिले. न मेक इन इंडिया हुआ. न डिजिटल इंडिया हुआ. न गंगा जी साफ हुईं. काम तो कुछ हुआ ही नहीं.

बिहार में जो एनडीए की सरकार है. लोग कहते हैं ये डबल इंजन की सरकार है. पहला इंजन इनका अपराध में है और दूसरा भ्रष्टाचार में है. बिहार में 40 बड़े घोटाले हुए हैं. जिसमे सृजन सबसे बड़ा घोटाला है. बालिका गृह मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड जिसमे सुप्रीम कोर्ट संज्ञान लेकर नीतीश कुमार जी को डेली फटकार लगा रहा है. लेकिन हमारे चाचा जी को थोड़ी सी भी शर्म नहीं आ रही है.

रिपोर्टर- सुप्रीम कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी भी की. 

तेजस्वी- तल्ख टिप्पणी के बाद भी देखिए न क्या-क्या नहीं कहा. सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को बोला कि कोई सरकार है ही नहीं. पुलिस को फटकारा. सीबीआई के अंतरिम डायरेक्टर को सजा दी गई. फिर भी देखिए थोड़ी सी भी शर्म हमारे पल्टू चाचा में नहीं दिखी. इस तरह का काम करवाना, अपराधियों को संरक्षण देना और हर एक स्कैम में डायरेक्ट संलिप्त होना. इसी लिए तो पल्टी मारी है BJP में, ताकि पाप धुल जाएं सारे.

रिपोर्टर- वो तो कह रहे हैं कि भ्रष्टाचार था, तेजस्वी जवाब दें कि जो भ्रष्टाचार और संपत्ति का खुलासा हुआ. आप भी सभा कर रहे हैं और वो भी सभा कर रहे हैं. हर सभा में वो कहते हैं कि हम सेवा के लिए आए हैं, वहीं कुछ लोग धन बनाने के लिए आए हैं. भ्रष्टाचार आज भी बड़ा मुद्दा है उनके लिए.

तेजस्वी- देखिए बात को समझिए. मिट्टी घोटाला क्या हुआ. उन सब में भी जवाब मांग रहे हैं. क्या हुआ- तुम बैठे हो तुम जांच करो, तुम निकालो, हम क्यों तुम्हारी जांच पे जाएंगे. पहले ये अपना आंकड़ा तो ठीक कर लें. क्या उन्होंने अपने मर्डर केस के बारे में बताया. जो किताब की चोरी हुई थी JNU के छात्र की. जिसमे इनको 20,000 रुपये जुर्माना देना पड़ा था. क्या उन्होंने उसके बारे में जिक्र किया. मुजफ्फरपुर पॉक्सो कोर्ट ने इनके ऊपर CBI जांच का आदेश दिया, क्या उसके बारे में इन्होने बताया. देखिए हमारे चाचा जो हैं, गलत तरीके से धन कैसे अर्जित किया जाए, उसी काम में लगे हुए हैं. शराब की 200 की बोतल 1500 में बिकवा रहे हैं. ये जो 1300 रुपये है, वो डायरेक्ट चाचा जी की पॉकेट में जा रहा है.

नीतीश कुमार द्वारा विज्ञापन में 500 करोड़ खर्च करने सवाल पर तेजस्वी ने कहा- नीतीश चाचा 500 करोड़ रुपये सिर्फ अपने चेहरे को चमकाने के लिए कर रहे हैं. उधर बिहार को विशेष राज्य देने की मांग हो रही है. लेकिन, ये किसी काम नहीं आने वाला. जनता इनको अच्छे से पहचान रही है.

रिपोर्टर- अगर महागठबंधन की सरकार बनी तो उसका नेतृत्व कौन करेगा?

तेजस्वी- हम लोग यूपीए में है और हम लोग राहुल गांधी जी को प्रधानमंत्री बनाएंगे. महागठबंधन के पक्ष में लहर है. नीतीश कुमार वहीं जाएंगे जो उनको मुख्यमंत्री बनाएगा. खुद की हैसियत तो है नहीं. औकात तो है नहीं. जनाधार तो है नहीं.

नीतीश कुमार से दोबारा गठबंधन पर तेजस्वी ने कहा कि, विलुप्त होने वालों से कहीं कोई गठबंधन करता है. 23 मई को भाजपा गई. नीतीश चाचा डायनासोर की तरह गायब हो जाएंगे. भूचाल आएगा और बीजेपी-JDU में कसाकसी होगी.

परिवार में चल रही लड़ाई के सवाल पर तेजस्वी ने कहा- ये देश का चुनाव है. परिवार का इंटरनल मैटर है. बीजेपी और चाचा इसी में खुश हो जाते हैं. होने दीजिए.