बिहार: पिता को साइकिल पर गुरुग्राम से दरभंगा पहुंचने वाली ज्योति की मदद करेंगी राबड़ी देवी

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के साथ ज्योति कुमारी के परिवार से वीडियो कांफ्रेंसिंग पर बात करते हुए राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने ज्योति की मदद के साथ-साथ उसकी पढ़ाई, शादी और पिता की नौकरी का भी प्रबंध करने का भरोसा दिलाया है.

बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर 1200 किलोमीटर का सफ़र तय कर गुरुग्राम से दरभंगा (Darbhanga) पहुंचने वाली ज्योति की मदद के लिए जैसे बिहार के नेताओं में होड़ सी मच गयी है. आज नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने ज्योति कुमारी से बात की और उसे मदद करने का भरोसा दिलाया. तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये ज्योति कुमारी से बात की. उन्होंने अपनी पार्टी के नेताओं को मोबाइल के साथ दरभंगा में रहने वाली ज्योति के पास भेजा था. उसी मोबाइल के सहारे वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिग हुई.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

तेजस्वी यादव के साथ ज्योति के परिवार से वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग पर बात करते हुए राबड़ी देवी ने ज्योति कुमारी की मदद के साथ-साथ उसकी पढ़ाई, शादी और पिता की नौकरी का भी प्रबंध करने का भरोसा दिलाया है. ज्योति के पिता मोहन पासवान से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि ज्योति का नाम सिर्फ देश ही नहीं पूरी दुनिया में मशहूर हो गया है. लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने के बाद उनकी नौकरी की व्यवस्था आरजेडी पार्टी करेगी.

तेजस्वी ने मोहन पासवान से यह भी कहा कि आपको बिहार, दरभंगा जहां भी नौकरी चाहिए हमारी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) पार्टी उसकी पूरी व्यवस्था करेगी. हम सरकार से भी आपको नौकरी देने की गुज़ारिश करेंगे. लॉकडाउन में अपने पिता मोहन पासवान को साइकिल पर बिठाकर 1200 किलोमीटर से ज्यादा की दूरी आठ दिन में तय करके ग्रुरुग्राम से बिहार के दरभंगा पहुंची थी. इस दौरान ज्योति ने रोजाना 100 से 150 किमी साइकिल चलाई थी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts