बिहार: संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस ने बीजेपी सांसदों के बीच डाली रार, जानें कैसे

संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को पटना से मधुपुर ले जाने का विरोध सिर्फ रामकृपाल यादव ही नहीं बल्कि कई और सांसद कर रहे हैं.

पटना से दिल्ली के बीच चलने वाली संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को मधुपुर स्टेशन ले जाने पर बीजेपी सांसदों के बीच घमासान और गहरा गया है. गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे ने मंगलवार को अपनी ही पार्टी के सांसद रामकृपाल यादव को जवाब दिया. निशिंकांत दूबे ने कहा-संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस के विस्तार से रामकृपाल चुनाव नहीं हार जाएंगे. रेलवे बोर्ड को संपूर्ण क्रांति ही नहीं बल्कि पटना राजधानी को भी मधुपुर से चलवाना चाहिए.

दरअसल संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को मधुपुर जंक्शन ले जाने के मामले पर रामकृपाल यादव ने सोमवार को कड़ा एतराज जताया था. रामकृपाल यादव ने इसके लिए पहल कर रहे गोड्डा से बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे को अपने इरादों से बाज आने की नसीहत दी थी. जिसके बाद निशिकांत दूबे ने वीडियो जारी कर जवाब दिया. कहा-रामकृपाल बेकार में डर रहे हैं. ट्रेन का विस्तार होने से रामकृपाल यादव चुनाव नहीं हार जाएंगे.

निशिकांत दूबे ने कहा कि संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस ही नहीं बल्कि पटना राजधानी को भी मधुपुर से चलाना चाहिए. दोनों ट्रेन बेकार में पटना जंक्शन पर 12 घंटे तक खड़ी रहती हैं. ऐसे में रेलवे बोर्ड का इस समय का सदुपयोग करना चाहिए और उसे मधुपुर तक विस्तारित कर देना चाहिए. गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे ने इस मामले में कई और सांसदों को लपेट लिया है.

उन्होंने कहा कि अगर ट्रेन मधुपुर से चलती है तो इसका फायदा मुंगेर, बेगूसराय, जमुई और बांका के सांसदों को भी मिलेगा. जाहिर है निशिकांत दूबे इस मामले में कई और सांसदों को लपेटना चाहते हैं. दरअसल संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को पटना से मधुपुर ले जाने का विरोध सिर्फ रामकृपाल यादव ही नहीं बल्कि कई और सांसद कर रहे हैं. निशिकांत दूबे अपने पक्ष में भी सांसदों की गोलबंदी कराना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: कश्‍मीर पर राहुल गांधी, उमर अब्‍दुल्‍ला के बयानों को पाकिस्‍तान ने UNHRC में बनाया ‘हथियार’