अमेजन इंडिया ने अपना नेटवर्क बढ़ाया, 10 हजार से अधिक डिलीवरी पार्टनर्स जोड़े

अमेजन इंडिया (Amazon India) ने अपने डिलीवरी कार्यक्रमों के साथ-साथ फ्लैगशिप प्रोग्राम 'आई हैव स्पेस' को भी मजबूत किया है. इसमें अब तक 350 शहरों के करीब 28,000 से अधिक दुकानें और किराना स्टोर शामिल हो चुके हैं.

अमेजन इंडिया (Amazon India) ने सोमवार को बहुप्रतीक्षित त्‍योहारी सीजन से पहले अपने डिलीवरी नेटवर्क में महत्वपूर्ण विस्तार की घोषणा की है. त्‍योहारी सीजन में ग्राहकों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कंपनी ने अपने डिलीवरी इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाते हुए इसका दायरा बढ़ाया है. इसके तहत नेटवर्क में 10 हजार से भी अधिक डिलीवरी पार्टनर्स जोड़े गए हैं.

कंपनी ने अपनी सीधी पहुंच बढ़ाने के लिए कई दूरदराज के उत्तरपूर्वी शहरों जैसे कि चम्फाई, कोलासिब, लुमडिंग और मोकोकचुंग के डिलीवरी स्टेशनों सहित देशभर में डिलीवरी सर्विस पार्टनर्स से ऑपरेट होने वाले लगभग 200 डिलीवरी स्टेशनों को भी शामिल किया है.

कंपनी ने अपने डिलीवरी कार्यक्रमों के साथ-साथ फ्लैगशिप प्रोग्राम ‘आई हैव स्पेस’ को भी मजबूत किया है. इसमें अब तक 350 शहरों के करीब 28,000 से अधिक दुकानें और किराना स्टोर शामिल हो चुके हैं.

ये भी पढ़ें- सरकार का बड़ा फैसला, 1 अक्टूबर से सरसों तेल में मिलावट पर रोक, किसानों और ग्राहकों को होगा फायदा

‘आई हैव स्पेस’ प्रोग्राम के तहत अमेजन इंडिया स्थानीय स्टोर मालिकों के साथ साझेदारी करके 2 से 4 किलोमीटर के दायरे में ग्राहकों को प्रोडक्ट डिलीवर करता है. इससे वो नियमित आय को बढ़ा सकते हैं और स्टोर को बेहतर बना सकते हैं.

कंपनी ने पिछले चार महीनों में ‘अमेजन फ्लेक्स’ कार्यक्रम की पहुंच को लगभग दोगुना कर दिया है, जो अब भारत के 65 शहरों में सेवा प्रदान करता है. इस कार्यक्रम की वृद्धि का श्रेय डिलीवरी पार्टनर को दी जाने वाली फ्लैक्सिबिलिटी को जाता है, जिससे वो अपने शेड्यूल के अनुसार काम कर सकते हैं. साथ ही अमेजन पैकेज की डिलीवरी करके प्रति घंटे 120 से 140 रुपए तक की अतिरिक्त कमाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- सरकार पर कैग का बड़ा आरोप, लाभ दिखाने के लिए आंकड़ों में हेरफेर करता है रेलवे

कांटेक्टलेस डिलीवरी पर अधिक ध्यान केंद्रित करते हुए, अमेजन इंडिया ने ‘सोसाइटी पिकअप पॉइंट्स’ भी बनाए हैं. यह एक डिलीवरी फॉर्मेट है, जो मुंबई, दिल्ली, बैंगलोर और हैदराबाद में ज्यादा घनत्व वाली रेजीडेंट सोसाइटी में लोगों की जरूरतों को पूरा करता है. यह कार्यक्रम हाउसिंग कॉम्प्लेक्स के अंदर वर्चुअल पिकअप पॉइंट और फिजिकल लोकेशन दोनों पदेता है – जिनमें से ग्राहक चेकआउट के दौरान कोई भी विकल्प चुन सकते हैं. ग्राहकों की सुविधा के लिए सप्ताह के विशेष दिनों में डिलीवरी की जाती है.

अमेजन इंडिया के लास्ट माइल ऑपरेशंस के डायरेक्टर प्रकाश रोचलानी ने अपने डिलीवरी नेटवर्क के विस्तार पर टिप्पणी करते हुए कहा, “हमारे डिलीवरी कार्यक्रमों के हालिया विस्तार ने सामूहिक रूप से अमेजन इंडिया के लक्ष्य को आगे बढ़ाने और त्‍योहारीहारी सीजन से पहले तेज, सुरक्षित और निर्बाध रूप से काम करने का अनुभव प्रदान किया है. हमारा लक्ष्य देशभर के ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना है कि इस त्‍योहारी सीजन में हमारे ग्राहक अपनी मनपसंद चीजों को घर बैठे आराम से प्राप्त कर सकें. हम अपने ग्राहकों और डिलीवरी पार्टनर दोनों की सुरक्षा को महत्व दे रहे हैं. हमने अपने डिलीवरी नेटवर्क को तैयार करने के लिए कड़ी मेहनत की है, ताकि देश के सभी हिस्सों से सुरक्षित, संपर्करहित डिलीवरी हो सके.

ये भी पढ़ें- Petrol Diesel Price: डीजल के दाम में चौथे दिन भी गिरावट जारी, पेट्रोल में कोई बदलाव नहीं

Related Posts