सरकार ने दी 2.5 करोड़ लोगों को सौगात, आप भी केवल 210 रुपए जमा कर पाएं 60,000 की रकम

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में कोई भी 18 से 40 साल तक का भारतीय नागरिक हिस्सा ले सकता है. इसके तहत सरकार 1,000 से 5,000 रुपये महीना पेंशन की गारंटी देती है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 4:43 pm, Fri, 16 October 20
प्रतीकात्मक तस्वीर

पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) ने कहा कि अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana- APY) योजना के तहत कुल 2.5 करोड़ सब्सक्राइबर्स नामांकित हैं. बता दें कि अटल पेंशन योजना कमजोर आयवर्ग वालों के लिए शुरू किया गया. मोदी सरकार 2015 में अटल पेंशन योजना की शुरुआत की थी. इसमें कोई भी 18 से 40 साल तक का भारतीय नागरिक हिस्सा ले सकता है. अटल पेंशन योजना के तहत सरकार 1,000 से 5,000 रुपये महीना पेंशन की गारंटी देती है. आइए जानते हैं आप कैसे उठा सकते हैं अटल पेंशन योजना का फायदा?

कैसे खोलें APY खाता?
बैंक शाखा/पोस्ट ऑफिस जहां व्यक्ति का बचत बैंक है को संपर्क करें या यदि खाता नही है तो नया बचत खाता खोलें. बैंक/डाकघर बचत बैंक खाता संख्या उपलब्ध करायें और बैंक कर्मचारियों की मदद से एपीवाई पंजीकरण फार्म भरें. आधार/मोबाइल नंबर उपलब्ध कराएं . यह अनिवार्य नहीं है, लेकिन योगदान के बारे में संचार की सुविधा हेतु प्रदान की जा सकती है. मासिक/तिमाही/छमाही योगदान के हस्तांतरण के लिए बचत बैंक खाता/डाकघर बचत बैंक खाते में आवश्यक राशि रखना सुनिश्चित करें.

पेटीएम से किया यह काम तो कटेगी आपकी जेब, कंपनी ने बदल दिया नियम

कैसे योगदान करें
योगदान मासिक/तिमाही/छमाही अंतराल पर बचत बैंक खाता/ग्राहक के डाकघर बचत बैंक खाते से ऑटो डेबिट सुविधा के माध्यम से किया जा सकता है. मासिक/तिमाही/छमाही योगदान वांछित मासिक पेंशन और प्रवेश के समय ग्राहक की उम्र पर निर्भर करता है. APY के लिए योगदान , माह के किसी भी विशेष तारीख को बचत बैंक खाता/डाकघर बचत बैंक खाते के माध्यम से भुगतान किया जा सकता है, मासिक योगदान की दशा में पहले महीने के किसी भी दिन या तिमाही योगदान की दशा में तिमाही के पहले महीने के किसी भी दिन या अर्ध-वार्षिक योगदान के मामले में छमाही के पहले महीने के किसी भी दिन.

42 रुपये से शुरू होता है निवेश
अटल पेंशन योजना के तहत 60 साल के बाद 1,000 रुपये मंथली पेशन का लाभ उठाने के लिए आपको 42 रुपये प्रतिमाह जमा करने होंगे. अगर आप 5,000 रुपये पेंशन के तौर पर लेना चाहते हैं तो आपको 60 साल की उम्र तक 210 रुपये जमा करने होंगे. अगर आप 40 साल के हैं तो 1,000 रुपये के पेंशन के लिए आपको 291 रुपये और 5,000 पेंशन के लिए 1,454 रुपये हर महीने जमा कराने होंगे.

APY से निकासी कैसे करें?
60 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर- 60 वर्ष की समाप्ति पर ग्राहक संबंधित बैंक को गारंटी न्यूनतम मासिक पेंशन या अधिक मासिक पेंशन निकासी के लिए, अगर निवेश रिटर्न एपीवाई में एम्बेडेड गारंटीड रिटर्न की तुलना में अधिक हैं. मासिक पेंशन की समान राशि ग्राहक की मृत्यु पर पति या पत्नी (डिफ़ॉल्ट नामित) को देय है. नामांकित ग्राहक और पति या पत्नी दोनों की मौत पर 60 साल की उम्र तक संचित पेंशन धन की वापसी के लिए पात्र होंगे.
60 साल की उम्र के बाद किसी भी कारण की वजह से ग्राहक की मृत्यु के मामले में- ग्राहक की मृत्यु के मामले में, वही पेंशन पति या पत्नी को देय है और दोनों की मृत्यु पर (ग्राहक और पति या पत्नी) 60 साल की उम्र तक संचित पेंशन धन नामांकित को वापस किया जायेगा.

लॉकडाउन में नौकरी गंवाने वालों के लिए राहत की खबर, सरकार ला रही ये नई स्कीम

60 साल की उम्र से पहले बाहर निकलना- यदि एक ग्राहक, जिसने एपीवाई के तहत सरकार के सह-योगदान का लाभ उठाया है, भविष्य में स्वेच्छा से एपीवाई बाहर निकलने के लिए चुनता है तो उसे केवल एपीवाई में उनके द्वारा किया गया योगदान उनके योगदान पर अर्जित शुद्ध वास्तविक अर्जित आय के साथ-साथ खाते के रखरखाव शुल्क घटाने के बाद वापस किया जाएगा. सरकार के सह-योगदान है, और सरकार के सह-योगदान पर अर्जित आय, इस तरह के ग्राहकों के लिए वापस नहीं किया जाएगा.

60 साल की उम्र से पहले ग्राहक की मृत्यु- 60 वर्ष से पहले ग्राहक की मृत्यु के मामले में, एपीवाई खाते में शेष अवधि के लिए जब तक मूल ग्राहक 60 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेता, निहित योगदान अपने नाम में जारी रखने का विकल्प पति या पत्नी के पास उपलब्ध होगा. ग्राहक का पति या पत्नी मृत्यु पर वही पेंशन राशि प्राप्त करने का हकदार होगा जो ग्राहक को देय था. या, एपीवाई के तहत पूरे संचित कोष पति या पत्नी/नामिती को लौटा दी जाएगी.