लूटघर : 2015 में ही दे दी थी फ्लैट की 95 फीसदी रकम, आज भी नहीं मिला घर

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तैनात CISF जवान को 2015 में फ्लैट (Flat) मिलना था लेकिन आज भी उनके घर का सपना अधूरा है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:56 pm, Wed, 30 September 20
प्रतीकात्मक फोटो

घर का सपना देखने वाले होम बायर कई बार धोखे के शिकार होते हैं. ऐसे ही एक होम बायर हैं वर्धमान, प. बंगाल में तैनात एक CISF जवान. इनका आरोप है कि यमुना एक्सप्रेस-वे पर सुपरटेक अपकंट्री में एक फ्लैट बुक किया था. फरवरी 2015 तक मकान की डिलीवरी होनी थी लेकिन 25 लाख रुपए से ज्यादा बिल्डिंग कंपनी को देने का बाद भी आज तक इन्हें घर नहीं मिला.

यह भी पढ़ें : लूटघर : 28 साल पहले लॉन्च हुए प्रोजेक्ट में लोग बिना रजिस्ट्री के रहने को मजबूर

CISF में काम करने वाले हमारे जवान हरि ओम गौतम का आरोप है कि उन्होंने ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस वे पर सुपरटेक अपकंट्री में 2 BHK फ्लैट बुक किया था, जिसका पजेशन फरवरी 2015 तक मिलना था.

दे चुके हैं 25 लाख रुपए

बिल्डर ने तब तक 95% कीमत यानि लगभग साढ़े पच्चीस लाख रुपए ले लिए थे लेकिन घर अब तक नहीं मिला है. फिलहाल पश्चिम बंगाल के बर्धमान में तैनात गौतम सुरक्षा बल की नौकरी करने वाले के साथ सुपरटेक के ऐसे बर्ताव से परेशान हैं.

लोन की EMI और परिवार के किराए के बोझ से दबे हैं. वो चाहते हैं कि इनका फ्लैट जल्द से जल्द इन्हें मिले और साथ में देरी का मुआवज़ा भी दिया जाएगा.

अगर आप भी किसी बिल्डर की जालसाजी का शिकार हुए हैं या फिर आप भी सालों से अपने सपनों के घर को पाने का इंतजार कर रहे है या आपके पास किसी तरह का कोई सुझाव है तो आप हमें lootghar@tv9.com पर ईमेल कर सकते हैं. अगर कोई बिल्डर भी अपना पक्ष रखना चाहता है तो वो भी दिए गए मेल पर अपनी बात लिख सकता है.

यह भी पढ़ें : लूटघर : 2013 में मिलना था घर, 2020 में भी साइट पर उड़ रही सिर्फ धूल