त्यौहारी सीजन में ई-कॉमर्स कंपनियों को होगा बंपर फायदा, बिक्री में होगी दोगुनी बढ़त

मार्केट रिसर्च के मुताबिक ई-कॉमर्स (E-Commerce) कंपनियों के मुताबिक फेस्टिव सीजन में उनके कारोबार को बड़ा फायदा होगा. इसके लिए कंपनियां अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए ज्यादा निवेश कर रही हैं.

  • TV9.com
  • Publish Date - 12:22 pm, Fri, 18 September 20

कोरोना महामारी (Corona epidemic) की वजह से ई-कॉमर्स उद्योग (E-commerce industry) को एक अलग मुकाम मिला है. कस्टमर त्योहारों के दौरान काफी ज्यादा शॉपिंग की तैयारी में हैं. मार्केट रिसर्च के नए अनुमानों के अनुसार फ्लिपकार्ट, अमेजन इंडिया और दूसरी ई-कॉमर्स कंपनियों की की फाइव-डे-सेल के दौरान, ई कॉमर्स सेक्टर की टोटल बिक्री लगभग 50 फीसदी बढ़ने की उम्मीद है.

कोविड-19 के दौरान डिजिटल अपनाने और ट्रेडिशनल ऑफलाइन दुकानदारों को ऑनलाइन ट्रांसफर करने के साथ, त्योहारी सीजन में 45-50 मिलियन डिजिटल खरीदारों के साथ 70 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोतरी की उम्मीद है. साल 2020 में पूरे फेस्टिव सीजन में 7 बिलियन डॉलर की सकल बिक्री की उम्मीद है जबकि पिछले साल लगभग 4 बिलियन डॉलर बिक्री हुई थी.

स्नैपडील ने होम डिलीवरी के लिए की रोबोट टेस्टिंग, नोएडा और गुरुग्राम में हुआ ट्रायल

फिलहाल इस फाइव-डे-सेल की घोषणा की जानी बाकी है लेकिन ई-टेलर्स ने अगले महीने होने वाले संभावित इवेंट के लिए ब्रांड्स, सेलर्स और लॉजिस्टिक्स प्लेयर्स के साथ काम करना शुरू कर दिया है. सप्लाई डिमांड में उछाल को पूरा करने के लिए सप्लाई चेन और इंवेस्टमेंट के मुद्दों को दूर करने के लिए उद्योग के अधिकारी सेलर्स और ब्रांड्स के साथ भी काम कर रहे हैं.

ईकॉम एक्सप्रेस के को-फाउंडर और सीईओ टी ए कृष्णन ने कहा, “टेक्निकली कोविड-19 महामारी ई-कॉमर्स के लिए फायदेमंद साबित हुई है. हम वर्तमान में जो कुछ देख रहे हैं, उससे अधिक संख्या में शिपमेंट की उम्मीद कर रहे हैं. इस पीक समय में एक दिन में 7.5-8 मिलियन शिपमेंट होना चाहिए. हमने पहले ही सीजन के लिए योजना बना ली है और अब इस पर कार्यान्वयन होगा.” कृष्णन के अनुसार, वर्तमान में ईकॉम एक्सप्रेस रोजाना लगभग 5-5.5 मिलियन वस्तुओं की शिपिंग कर रही है. पिछले साल फेस्टिवल सीजन के दौरान औसत शिपमेंट 5 मिलियन से कम था.

त्यौहारी सीजन में फ्लिपकार्ट करेगी 70 हजार सीधी भर्तियां, आप भी कर सकते हैं ट्राय

ई-कॉमर्स कंपनियों के मुताबिक फेस्टिव सीजन में उनके कारोबार को बड़ा फायदा होगा. इसके लिए कंपनियां अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए ज्यादा निवेश कर रही हैं. हाल ही में फ्लिपकार्ट ने भी डिलीवरी अरेंजमेंट को बेहतर बनाने के लिए 50,000 से अधिक किराना दुकानों को जोड़ा है. इसके अलावा अमेजन इंडिया ने पांच सेंटर्स (विशाखापट्टनम, फरूखनगर, मुंबई, बेंगलुरू और अहमदाबाद) जोड़ने की घोषणा की है. कस्टमर त्योहारों के दौरान काफी ज्यादा शॉपिंग की तैयारी में हैं इसके लिए कंपनियां उनकी शॉपिंग लिस्ट पूरी करने की तैयारी में हैं और इसके लिए नियुक्तियां भी शुरू कर दी गई हैं.

30 हजार लोगों को नौकरी देगी ये ई-कॉमर्स कंपनी, 10 अक्टूबर से पहले करें ट्राय