2 साल के आगे बढ़ाना चाहते हैं अपना लोन तो फॉलों करें ये टिप्स, घर बैठे हो जाएगा काम

भारतीय स्टेट बैंक ( State Bank of India ) ने अपने सभी खुदरा लोन को रिस्ट्रक्चर करने की पेशकश की है. आइए जानते हैं कि घर बैठे आप अपने लोन को कैसे आगे बढ़ा सकते हैं.

  • TV9 Digital
  • Publish Date - 12:05 pm, Tue, 22 September 20
diwali, diwali gifts, diwali free gifts, free gifts on diwali, sbi, sbi gifts, sbi diwali, sbi diwali gifts

भारतीय स्टेट बैंक ने अपने सभी खुदरा लोन को रिस्ट्रक्चर करने की पेशकश की है. इस स्कीम के तहत आप अपने लोन को 1 से 24 महीने के लिए आगे बढ़ा सकते हैं. दरअसल इस सुविधा का लाभ ग्राहक घर बैठे ही उठा सकते हैं. इसके लिए बैंक ने एक पोर्टल लांच किया है. दरअसल वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों को लोन रिचक्ट्रचर को कहा था. जिसके बाद भारतीय स्टेट बैंक ने इस स्कीम की शुरुआत की है. उम्मीद की जा रही है अब दूसरे बैंक भी अपने ग्राहकों को लोन रिस्ट्रक्चर करने की पेशकश कर सकते हैं. आइए जानते हैं कि घर बैठे आप अपने लोन को कैसे आगे बढ़ा सकते हैं.

ये है लोन रिस्ट्रक्चर कराने का प्रोसेस

  1. सबसे पहले आपको बैंक की ओर से लांच किए ऑनलाइन पोर्टल https://bank.sbi/  पर जाना होगा.
  2. यहां ऑनलाइन पोर्टल के लिंक को क्लिक करके यहां अपना अकाउंट नंबर डालना होगा
  3. अकाउंट नबंर डालने के बाद आपके पास ओटीपी वेरिफिकेशन के लिए मोबाइल पर एक नंबर आएगा.
  4. इस ओटीपी को डालने के बाद आपको एक रेफरेंस नंबर मिलेगा. जिससे पता चलेगा कि आप इसके पात्र है या नहीं
  5. बैंक की ओर से दिया गया रेफरेंस नंबर 30 दिनों तक वैलिड रहेगा.
  6. इन 30 दिनों के अंदर आप अपने जरुरी डॉक्यूमेंट्स को बैंक में ले जाकर अपना लोन आगे बढवा सकते हैं.

इन लोगों का स्वीकार होगा आवेदन

बैंक ने जो लोन रिस्ट्रक्चर करने की पेशकश की है उसके लिए कुछ शर्तें भी है जिसके बाद ही आप इसके पात्र हो सकेंगे. इसमें सबसे पहली शर्त है कि आपको अपनी इनकम फ्रुफ दिखानी होगी. अगर कोरोना के चलते आपकी आय प्रभावित हुई है तभी आपको लोन मोरेटोरियम की सुविधा मिल सकेगी. अगर आप अपनी पात्रता साबित कर पाते है तो बैंक आपको 1 से 24 महीने तक का ऑप्शन देगी तो आप अपनी सुविधा अनुसार चुन सकते हैं.

दूसरे बैंक भी कर सकते हैं पहल

उम्मीद की जा रही है कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की बात को एसबीआई की तरह दूसरे बैंक भी आगे बढ़ाएगे. निजी क्षेत्र की बड़ी बैंक एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक भी अपने ग्राहकों के लिए इस तरह की स्कीम जल्द ला सकती है. वहीं सरकारी बैंक भी इस ओर पहल कर सकते हैं.