Corona कहर बढ़ने के साथ-साथ बढ़ी सोने की चमक, बना निवेशकों की पहली पसंद

कोरोनावायरस (Coronavirus) के कहर से वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में है. सोना (Gold) इस समय निवेशकों (Investors) का पसंदीदा निवेश का उपकरण या टूल है क्योंकि सोना संकट का साथी होता है.
Gold prices in futures market, Corona कहर बढ़ने के साथ-साथ बढ़ी सोने की चमक, बना निवेशकों की पहली पसंद

कोरोना महामारी (Coronavirus) के प्रकोप के साथ-साथ अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव से सोने (Gold) की चमक फिर बढ़ गई है. अंतर्राष्ट्रीय बाजार से मिले मजबूत संकेतों से भारतीय वायदा बाजार और MCX पर सोने का भाव सोमवार को फिर एक नई उंचाई पर चला गया.

घरेलू वायदा बाजार (Domestic Futures Market) में लगातार चौथे सत्र (सेशन) में सोने के दाम में तेजी का सिलसिला जारी रहा. सोने के साथ-साथ चांदी में भी ज्यादा तेजी देखी जा रही है.

MCX पर सोने और चांदी की चमक

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर सुबह 9.31 बजे सोने के जून एक्सपायरी कॉन्ट्रैक्ट में पिछले सत्र के मुकाबले 36 रुपये की तेजी के साथ 47,743 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले सोने का भाव 47,770 रुपये प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड स्तर तक उछला. वहीं, MCX पर चांदी के जुलाई कॉन्ट्रैक्ट में पिछले सत्र से 1,422 रुपये यानी 3.04 फीसदी की तेजी के साथ 48,140 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

सोने की तरफ बढ़ा इन्वेस्टर्स का रुझान

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया (Ajay Kedia) ने बताया कि कोरोनावायरस के कहर से वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में है. वहीं, अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव फिर से बढ़ता जा रहा है, जिससे निवेशकों का रुझान निवेश के सुरक्षित साधन सोने की तरफ बढ़ गया है. अंतर्राष्ट्रीय कॉमेक्स पर सोने का भाव सात साल से ज्यादा समय के ऊंचे स्तर पर चल रहा है.

कोरोना काल में शेयर बाजार पर असर होने की आशंका

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व (Federal Reserve) ने भी कोरोना काल में शेयर बाजार पर असर होने और आर्थिक रिकवरी की प्रक्रिया सुस्त रहने की आशंका जताई है. कॉमेक्स पर सोने के जून कॉन्ट्रैक्ट में पिछले सत्र से 12.80 डॉलर यानी 0.73 फीसदी की तेजी के साथ 1,769.10 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले भाव 1,774.95 डॉलर प्रति औंस तक उछला. वहीं, चांदी के जुलाई कॉन्ट्रैक्ट में पिछले सत्र से 2.98 फीसदी की तेजी के साथ 17.57 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था.

संकटकाल में काम आते हैं सोना और नकदी

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता (Anuj Gupta) ने कहा कि सोना इस समय निवेशकों का पसंदीदा निवेश का उपकरण या टूल है क्योंकि सोना संकट का साथी होता है. उन्होंने कहा कि लोग जब संकट में होते हैं, तो उनके पास जो नकदी रहती है, वही साथ देती है. सोना लोगों के लिए जरूरत का साधन जुटाने के साथ-साथ कारोबार भी खड़ा करने में काम आता है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts