क्रूजर बाइक बनाने वाली हार्ले डेविडसन ने भारत में बंद किया अपना कारोबार

हार्ले डेविडसन ने अपने खर्चों में 75 मिलियन डॉलर की कटौती की योजना बनाई है जिसमें वह भारत में मैन्युफैक्चरिंग बंद कर रही है.

Harley-Davidson shuts down India operations

अमेरिकी मोटरसाइकिल मेकर हार्ले डेविडसन (Harley-Davidson) ने भारत में अपनी मैन्यूफैक्चरिंग और सेल्स ऑपरेशन बंद की.कंपनी ने ‘Rewire’ प्रोग्राम के तहत भारत में मैन्युफैक्चरिंग और सेल्स ऑपरेशन को पूरी तरह से बंद कर दिया है. कंपनी गुरुवार को यह घोषणा की. हार्ले डेविडसन अपने खर्चों में 75 मिलियन डॉलर की कटौती की योजना बनाई है जिसमें वह भारत में मैन्युफैक्चरिंग बंद कर रही है. कंपनी अपने कारोबार को रिस्ट्रक्चर कर रही है. देश में 111 साल ऑपरेशंस के बाद कंपनी अपना कारोबार भारत से समेट रही है.

अगस्त में क्रूजर बाइक बनाने वाली हार्ले डेविडसन ने घाटे वाली अंतर्राष्ट्रीय मार्केट से बाहर निकल, फिर से अमेरिकी बाजार पर फोकस करने का संकेत दिया था. कम बिक्री और कोविड-19 महामारी (COVID-19 Pandemic) से डिमांड में चौपट होने की आशंका ने बाइक मेकर को भारतीय बाजार से निकलने पर मजबूर किया.

हार्ले डेविडसन इंडिया पिछले वित्तीय वर्ष में सिर्फ 2,500 यूनिट्स ही बेच पाई, जो अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सबसे खराब प्रदर्शन है. भारत में कारोबार बंद होने से हार्ले डेविडसन के करीब 70 कर्मचारियों की नौकरी चली जाएगी. हरियाणा के बवाल में कंपनी का असेम्बलिंग यूनिट है. वित्त वर्ष-19 में भारत में हार्ले बाइक की बिक्री 22 फीसदी घटकर 2,676 यूनिट्स रही. वित्त वर्ष 2018 में कंपनी ने 3,413 यूनिट्स बेची थी. भारत में हार्ले की 65 फीसदी बाइक 750cc से कम की थी जिसे हरियाणा में असेम्बल किया जाता था.

भारत की पहली ऑटोनॉमस प्रीमियम एसयूवी MG Gloster हुई लॉन्च, जानें इस कार के शानदार फीचर

3-4 साल में इन कंपनियों ने भारत में बंद किया अपना कारोबार
पिछले 3-4 वर्षों में ऑटोमोटिव ब्रांड्स जैसे जेनरल मोटर्स, फिएट, Ssangyong, Scania, MAN, यूएम मोटरसाइकिल्स ने अपना कारोबार भारत में बंद किया है. इस श्रेणी में अब हार्ले-डेविडसन भी शामिल हो गई है. भारत में पिछले 10 वर्षों में कंपनी ने मोटरसाइकिल्स के कुल 25,000 यूनिट्स बेचे हैं. दुनियाभर में हार्ले की बिक्री का करीब 75 फीसदी यूएस और यूरोप से आता है. इसमें अमेरिका का हिस्सा 56 फीसदी है. बता दें कि ‘Rewire’ प्रोग्राम कुछ महीने पहले शुरू हुआ था.

Related Posts