लूटघर : एक नहीं 650 खरीदारों के घर का सपना टूटा, फोन भी नहीं उठाता बिल्डर

ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में होम बायर्स (Home Buyers) को 2016 में घर की चाबी मिलनी थी. चार साल बाद भी वो अपने घर में होने के बजाए कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं.

TV9 भारतवर्ष की ‘लूटघर सीरीज’ (Lootghar Series) में हम ऐसे बिल्डर्स की कहानी आपको बताते हैं जो आशियाने का सपना देखने वाले खरीदारों को चूना लगाकर उनकी जीवनभर की पूंजी हड़प लेते हैं. बेचारे होम बायर्स (Home Buyers) अपने घर का सपना छोड़ कोर्ट कचहरी के चक्कर काटने को मजबूर हो जाते हैं. ऐसे खरीदार खुद हमें मेल-मेसेज लिखकर अपने साथ हुए धोखे की कहानी बताते हैं.

रांची के संजय कुमार मिश्रा का आरोप है कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट की मेस्कॉट होम्स प्राइवेट लिमिटेड ने उनसे धोखा किया. 2014 में उन्होंने फ्लैट बुक किया था जिसका पजेशन 2016 में होना था, लेकिन चार साल बाद भी घर नहीं मिला. संजय ही नहीं अब 650 बायर खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं. बिल्डर ना तो खुद मिलता है ना ही फोन उठाता है.

8 साल बाद भी घर का पता नहीं

इसी तरह हेमंत भीकाजी खैरनार बताते हैं कि 2009 में उन्होंने एक प्रोजेक्ट में 2 BHK फ्लैट बुक किया, जिसे 2012 तक हैंडओवर करने का भरोसा दिया गया था. 8 साल बीत चुके हैं. पहले प्रोजेक्ट पनवेल के TMC Karjat बिल्डर के हाथ में था, फिर इसे Gopi Resort PVT Ltd के हवाले किया गया और अब Sheltrex बिल्डर इसे हैंडल कर रहा है. इन्होंने महाराष्ट्र RERA के बांद्रा ऑफिस में इसकी शिकायत भी की लेकिन तीन सुनवाई के बाद भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

अगर आप भी किसी बिल्डर की जालसाजी का शिकार हुए हैं या फिर आप भी सालों से अपने सपनों के घर को पाने का इंतजार कर रहे है या आपके पास किसी तरह का कोई सुझाव है तो आप हमें lootghar@tv9.com पर ईमेल कर सकते हैं.

Related Posts