IndiGo को DGCA का फरमान, तीन महीने में बदल डालो हर प्‍लेन का इंजन

डायरेक्‍टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने IndiGo से कहा है कि वह जनवरी 2020 तक पुराने PW इंजन बदल दे.

पिछले एक सप्‍ताह में IndiGo के Airbus 320 (neos) एयरक्राफ्ट्स के साथ दो हादसे हुए. सुरक्षा के मद्देनजर एयरलाइंस को जनवरी 2020 तक अपने सभी 97 एयरक्राफ्ट के इंजन बदलने को कहा गया है. डायरेक्‍टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने यह आदेश दिए हैं. अभी Airbus 320 (neos) में प्रैट एंड व्हिटनी इंजन इस्‍तेमाल होते हैं. दोनों नए इंजन के लो प्रेशर टर्बाइन में बदलाव किया जाएगा.

DGCA के DG अरुण कुमार ने IndiGo से कहा, “पिछले एक सप्‍ताह में चार बार फ्लाइट वापस लौटने या रोकने की नौबत आई है. ऐसे हालात हमेशा नहीं जारी रह सकते. इसलिए बहुत विचार करने के बाद तय किया गया है कि आप अपनी फ्लीट के सभी एयरक्राफ्ट के दोनों इंजन्‍स में मॉडिफाइड लो प्रेशर टर्बाइन लगाएं.” इससे उड़ान के दौरान की सुरक्षा में काफी सुधार हो सकता है.

DGCA DG ने कहा, “ऑपरेटर यह सुनिश्चित करे कि 31 जनवरी 2020 तक हर हाल में इन एयरक्राफ्ट्स में मॉड‍िफाइल LPT लग जाए. अगर ऐसा नहीं होता तो एयरक्राफ्ट को उड़ने की इजाजत नहीं दी जाएगी.” अभी यह आदेश केवल IndiGo के लिए जारी किए गए हैं.

इसी अक्टूबर में इंडिगो के A320 (neos) विमान की तीन उड़ानों के दौरान इंजन बंद हो गए थे, जिनमें प्रैट एवं व्हिटनी इंजन लगे हुए थे. ये इंजन 24, 25 और 26 अक्टूबर को बंद हुए थे. इसके बाद DGCA की एक टीम ने सोमवार को IndiGo कैंपस का दौरा किया.

ये भी पढ़ें

तेजस एक्‍सप्रेस से कर रहे सफर? इस वजह से लेट हुई ट्रेन तो नहीं मिलेगा रिफंड

सरकारी हो या प्राइवेट, नौकरी करने वालों के लिए खुशखबरी

Related Posts