मुकेश अंबानी का एक और तहलका, 4000 से कम कीमत में लाने जा रहे हैं भारतीय स्मार्टफोन

इस योजना के तहत अगले 2 साल में 20 करोड़ स्मार्टफोन ( Smartphone ) बनाने की तैयारी है. मुकेश अंबानी ( Ambani ) की नजर देश की स्मार्टफोन इंडस्ट्री को बढ़ाने पर है.

  • TV9 Digital
  • Publish Date - 11:41 am, Wed, 23 September 20

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी हमेशा कुछ अलग और बड़ा करने के लिए जाने जाते रहे हैं. टेलिकॉम इंडस्ट्री में जियो के जरिए कब्जा करने के बाद अब मुकेश अंबानी की नजर भारत के स्मार्टफोन मार्केट पर है. भारत में अभी चीनी स्मार्टफोन कंपनियों का कब्जा है. लेकिन जल्द ही मुकेश अंबानी भारत में बेहद सस्ता स्मार्टफोन लाने की तैयारी कर रहे हैं वो भी 4000 रुपए से कम कीमत पर. अभी अमूमन एक औसत स्मार्टफोन की कीमत 8 से 10 हजार की होती है. अगर मुकेश अंबानी 4000 रुपए से कम कीमत पर एक एवरेज स्मार्टफोन भी उतार देते हैं तो स्मार्टफोन के मार्केट में भी तगड़ा कम्पिटिशन छिड़ सकता है.

ये है पूरा प्लान

मुकेश अंबानी की कंपनी सस्ते में स्मार्टफोन लाने के लिए देशी एसेंबलर्स से बातचीत कर रही है. इस योजना के तहत रिलायंस इंडस्ट्री ने स्थानीय सप्लायर्स को भारत में उत्पादन बढ़ाने को कहा है. इस योजना के तहत अगले 2 साल में 20 करोड़ स्मार्टफोन बनाने की तैयारी है. मुकेश अंबानी की नजर देश की स्मार्टफोन इंडस्ट्री को बढ़ाने पर है. जैसा वो पहले वायरलेस के क्षेत्र में कर चुके हैं.

गूगल की साझेदारी से होगा फायदा

मुकेश अंबानी की इस रणनीति में कंपनी को गूगल की साझेदारी का बेहद फायदा मिलेगा. दरअसल कुछ महीने पहले ही गूगल ने जियो में 4.5 बिलियन डॉलर निवेश करने की घोषणा की है. माना जा रहा है कि जियो का सस्ता स्मार्टफोन गूगल की साझेदारी में ही लांच किया जाएगा. रिलायंस ने इसी साल कहा था कि गूगल एंड्रॉयड के सस्ते वर्जन पर काम कर रही है. अब कंपनी इसी के तहत सस्ता स्मार्टफोन बाजार में लाने की योजना बना रही है.

इन कंपनियों को मिलेगी कड़ी टक्कर

अभी मौजूदा दौर में भारत के स्मार्टफोन बाजार में रियलमी, ओपो, वीवो जैसी चीनी कंपनियों का कब्जा है. दरअसल भारत में 7500 से 8000 की कीमत वाले स्मार्टफोन बाजार में इन कंपनियों की हिस्सेदारी 14,700 करोड़ की है. वहीं जियो के सस्ते स्मार्टफोन आने के बाद नोकिया और सैमसंग जैसे पुराने खिलाड़ियों का कारोबार भी प्रभावित होगा.