अब फ्लाइट में भी मिलेगी कॉलिंग और इंटरनेट की सुविधा, रिलायंस जियो ने इस कंपनी से किया करार

रिलायंस जियो ( Reliance Jio ) के इन फ्लाइट पोस्टपेड प्लान्स 499, 699 और 999 रुपये के हैं। इनमें से हर की वैधता 24 घंटे की होगी। यह वैधता फ्लाइट के दौरान पहले कॉल लेने के साथ शुरू हो जाएगी.

रिलायंस जियो ने पैनासोनिक एवियोनिक्स कारपोरेशन की इकाई एयरोमोबाइल के साथ करार किया है. इस करार के तहत भारत में पहली इन फ्लाइट मोबाइल कनेक्टिविटी सर्विस शुरू की जाएगी, जो जियोपोस्टपेड प्लस यूजर्स के लिए मान्य होगी. जियो ने एक बयान जारी कर कहा है कि इन फ्लाइट सर्विस से विदेश जाने वाले भारतीय यात्रियों को फ्लाइट के दौरान भी व्बाइस और डाटा सर्विस पाने का हक मिलेगा. साथ ही यह सब उन्हें काफी सस्ते दर में मिलेगा.

जियो के इन फ्लाइट पोस्टपेड प्लान्स 499, 699 और 999 रुपये के हैं। इनमें से हर की वैधता 24 घंटे की होगी। यह वैधता फ्लाइट के दौरान पहले कॉल लेने के साथ शुरू हो जाएगी. इसमें 100 मिनट का आउटगोइंग कॉल, 100 एसएमएस और क्रमश: 250एमबी, 500एमबी और 1जीबी तक का डाटा मिलेगा. इस साझेदारी के दायरे में आने वाले पार्टनर एअरलाइन एमिरेट्स, एतिहाद एअरवेज, लुफ्तांसा, वर्जिन अटलांटिक, एगेर लिंगुस, एअर सर्बिया, एलिटालिया और कैथे पैसिफिक हैं.

1 करोड़ के पार हुई यात्रियों की संख्या

अनलॉक के बाद देश में विमान यात्रियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. 25 मई को देश में फ्लाइट ऑपरेशन शुरू होने के बाद से अब एक करोड़ से अधिक लोग घरेलू उड़ान भर चुके हैं. घरेलू विमानन सेवा कोरोना से पहले की स्थिति में लौटती दिख रही है. 24 सितम्बर तक कुल बाहर जाने वाले घरेलू यात्रियों की संख्या 1,19,702 रही जबकि आने वाले यात्रियों की संख्या 1,21,126 रही.

इस दौरान कुल डिपार्चर 1393 रहा जबकि एराइवल्स की संख्या 1394 रही। इससे 2787 बार फ्लाइट्स को यहां से वहां जाना पड़ा। एक दिन में देश के सभी हवाई अड्डों पर यात्रियों की संख्या 2,40,828 रही। 25 मई से लेकर अब तक एक लाख से अधिक घरेलू उड़ानों का संचालन हो चुका है. कोरोना के कारण 25 मार्च से 25 मई तक घरेलू विमान सेवा पर रोक लगी हुई थी.

Related Posts