मोरेटोरियम के बाद अब 2 साल के लिए कर सकते हैं अपना लोन रिस्ट्रक्चर, SBI ग्राहकों को फायदा

खास बात यह है कि इसके लिए आपको बैंक ( Bank ) के चक्कर भी लगाने की जरूरत नहीं है. एसबीआई ( SBI ) ने इसके लिए पोर्टल लांच किया है. इस पोर्टल पर जाकर बैंक ग्राहक अपने होम, ऑटो जैसे रिटेल लोन को रिस्ट्रक्चर कर सकते हैं.

  • TV9 Digital
  • Publish Date - 10:57 am, Tue, 22 September 20

अगर आपका खाता देश के सबसे बड़ सरकारी बैंक एसबीआई में है और आपने किसी भी तरह का लोन ले रखा है तो आपके लिए खुशखबरी है. दरअसल भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी सभी ग्राहकों को यह सुविधा दी है कि आप अपना लोन रिचस्ट्रक्चर करवा सकते हैं. खास बात यह है कि इसके लिए आपको बैंक के चक्कर भी लगाने की जरूरत नहीं है. एसबीआई ने बकायदा इसके लिए पोर्टल लांच किया है. इस पोर्टल पर जाकर बैंक ग्राहक अपने होम, ऑटो जैसे रिटेल लोन को रिस्ट्रक्चर कर सकते हैं. ग्राहक अपने लोन को 1 से 24 महीने तक के लिए बढ़वा सकते हैं.

एसबीआई के पास 41 करोड़ से ज्यादा ग्राहक

भारतीय स्टेट बैंक देश का सबसे बड़ा बैंक हैं. बैंक के पास करीब 41 करोड़ से ज्यादा सेविंग खाते हैं. केवल इस खाते हैं. बैंक की इस स्कीम का लाभ वो सभी ग्राहक ले सकते हैं जिनकी आय कोरोना से प्रभावित हुई है.

ऐसे जानें आपको स्कीम का फायदा मिलेगा या नहीं

भारतीय स्टेट बैंक ने कहा है कि लोन रिचट्रक्टर करने के लिए जो पोर्टल लांच किया गया है उसके जरिए होम लोन, ऑटो लोन जैसे खुदरा लोन को आसानी से रिचक्ट्रचर किया जा सकेगा. इसके लिए आपको बैंक को अपनी आय का ब्यौरा देना होगा. यहां खास बात यह है कि जिन ग्राहकों ने 1 मार्च 2020 तक 30 दिन या इससे ज्यादा का डिफॉल्ट नहीं किया है. साथ ही जिनकी आय पर कोरोना संकट का असर पड़ा है, वे भी इसके दायरे में आएंगे.

बढ़ जाएगी लोन की मियाद

अगर आप बैंक की स्कीम का फायदा लेते हैं तो आपके लोन की मियाद बढ़ जाएगी. स्टेट बैंक ने बताया कि अगर कोई व्यक्ति 6 महीने के लिए मोरेटोरियम चुनता हैं तो उसकी 18 महीने बढ़ जाएगी. ठीक इसी तरह अगर किसी ने 2 साल का मोरेटोरियम चुना है तो ईएमआई की पीरियड 6 साल के लिए बढ़ जाएगी.