लगातार छठे सत्र में टूटा शेयर बाजार, 3 फीसदी लुढ़के सेंसेक्स और निफ्टी

कोरोना (Corona) का कहर दोबारा गहराने से वैश्विक अर्थव्यवस्था में रिकवरी को लेकर निराशाजनक बयानों से वैश्विक बाजारों में गिरावट आई जिसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी रहा.

कोरोना (Corona) के कहर के चलते वैश्विक बाजारों से मिले निराशाजनक संकेतों के चलते घरेलू शेयर बाजार में गुरुवार को लगातार छठे सत्र में गिरावट का सिलसिला जारी रहा. सेंसेक्स 1115 अंक लुढ़कर 36,554 पर ठहरा, जबकि निफ्टी 326 अंक टूटकर कर 10,806 के करीब बंद हुआ. दोनों प्रमुख सूचकांकों में करीब तीन फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. इन 6 दिनों में सेंसेक्स करीब 2,750 अंक लुढ़का जबकि निफ्टी में करीब 800 अंकों की गिरावट रही.

कोरोना का कहर दोबारा गहराने से वैश्विक अर्थव्यवस्था में रिकवरी को लेकर निराशाजनक बयानों से वैश्विक बाजारों में गिरावट आई जिसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी रहा और बिकवाली के भारी दबाव में दलाल स्ट्रीट पर कोहराम का आलम रहा.

सेंसेक्स पिछले सत्र से 1114.82 अंकों यानी 2.96 फीसदी की गिरावट के साथ 36,553.60 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी बीते सत्र से 326.30 अंकों यानी 2.93 फीसदी की गिरावट के साथ 10,805.55 पर बंद हुआ.

ये भी पढ़ें- कोरोना में चली गई 50 करोड़ लोगों की नौकरियां, जुलाई और अगस्त में सबसे ज्यादा बेरोजगारी

जानकार बताते हैं कि निराशाजनक वैश्विक संकेतों से घरेलू शेयर बाजार में बिकवाली का दबाव रहा और फ्यूचर्स एवं ऑप्शंस अनुबंधों के सितंबर महीने के अनुबंधों की समाप्ति का आखरी दिन होने के चलते भी बाजार में गिरावट आई.

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 386.24 अंकों की गिरावट के साथ 37,282.18 पर खुला और 36,495.98 तक लुढ़का जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का उपरी स्तर 37,304.26 रहा.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी बीते सत्र से 120.85 अंकों की गिरावट के साथ 11,011 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 10,790.20 तक लुढ़का जबकि कारोबार के दौरान निफ्टी का उपरी स्तर 11,015.30 रहा.

बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सत्र से 304.71 अंक यानी 2.14 फीसदी टूटकर 13,933.21 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप सूचकांक 331.25 अंक यानी 2.28 फीसदी फिसलकर 14,168.28 पर बंद हुआ.

सेंसेक्स के 30 शेयरों में सिर्फ एक हिंदुस्तान यूनीलीवर का शेयर महज (0.36 फीसदी) बढ़त के साथ बंद हुआ जबकि 29 शेयरों में गिरावट रही. सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों इंडसइंड बैंक (7.10 फीसदी), बजाज फाइनेंस (6.63 फीसदी), एमएंडएम (6.37 फीसदी), टीसीएम (5.50 फीसदी) और टेक महिंद्रा (5.23 फीसदी) शामिल रहे.

19 सेक्टरों में गिरावट दर्ज

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों में गिरावट दर्ज की गई. बीएसई के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में आईटी (4.45 फीसदी), टेक (4.25 फीसदी), ऑटो (5.56 फीसदी), धातु (3.51 फीसदी) और बैंक इंडेक्स (3.41 फीसदी) शामिल हैं. बीएसई पर कुल 3,078 शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 673 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि 2,217 शेयरों में गिरावट रही. सत्र के आखिर में 188 शेयर सपाट बंद हुए.

ये भी पढ़ें- डेबिट कार्ड नहीं अब आपके स्मार्टफोन से हो जाएगा पेमेंट, इस बैंक की नई सुविधा

Related Posts