टेलीकॉम के बाद रिटेल सेक्टर पर कब्जे की तैयारी में मुकेश अंबानी, रिलायंस रिटेल में 73 हजार करोड़ का निवेश कर सकती है सिल्वर लेक

पहले तेल ( Oil )फिर टेलिकॉम (Telecom) पर कब्जा, अब रिटेल सेक्टर पर रिलायंस (Reliance )की नजर है। इसी के तहत अब कंपनियां रिलायंस रिटेल में निवेश करने का मन बना रही है।

  • TV9.com
  • Publish Date - 11:02 am, Fri, 4 September 20

कोरोना काल में जियो प्लेटफॉर्म्स के जरिए 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा जुटा चुके मुकेश अंबानी की अगली नजर अब रिटेल सेक्टर पर है। अमेरिका की प्राइवेट इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक रिलायंस रिटेल में करीब 1 बिलियन डॉलर यानी 73 हजार करोड़ रुपए का निवेश कर सकती है। फाइनेंशियल टाइम्स के मुताबिक इस निवेश को लेकर सिल्वर लेक की रिलायंस इंडस्ट्री से बातचीत चल रही है। दरअसल रिलायंस इंडस्ट्रीज अपनी रिटेल सब्सिडियरी रिलायंस रिटेल की 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना बना रही है। यह हिस्सेदारी बिक्री नए शेयर के रूप में की जाएगी। हालांकि अभी कंपनी ने इसको लेकर किसी तरह की आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

पहले तेल फिर टेलिकॉम अब रिटेल

पहले तेल के क्षेत्र में रिलायंस समूह ने अपनी पकड़ मजबूत की। फिर टेलिकॉम सेक्टर में जियो को लाकर पूरे बाजार को कड़ी टक्कर दी। इसी का नतीजा था कि जियो को कोरोना काल में भी जमकर निवेश मिला। अब अपने रिटेल कारोबार का विस्तार करने के लिए मुकेश अंबानी निवेशक तलाश रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका की दिग्गज कंपनी वालमार्ट भी रिलायंस रिटेल में हिस्सेदारी खरीदने की इच्छा जता रही है। अगर ऐसा होता है तो रिटेल सेक्टर की बाजी पलटने के लिए यह बहुत बड़ी पहल होगी।

सिल्वर लेक में जियो में किया है निवेश

अमेरिकी कंपनी सिल्वर लेकर रिलायंस के जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.08 फीसदी की हिस्सेदारी खरीद चुकी है। कंपनी ने जियो में दो बार अलग अलग रकम निवेश कर जियो प्लेटफॉर्म्स में हिस्सेदारी खरीदी थी। पहली बार में सिल्वर लेक ने 5656 करोड़ रुपए का निवेश किया था। फिर दूसरी बार कंपनी ने जियो में 4547 करोड़ रुपए का निवेश किया था। ये दोनो निवेश कोरोना महामारी के दौरान ही किए गए थे।

 

बिक चुकी है जियो की 33% हिस्सेदारी

कोरोना काल में विदेशी निवेश के रुप में जियो प्लेटफॉर्म्स करीब 33 फीसदी हिस्सेदारी बेच चुका है। जिसमें फेसबुक, गूगल से लेकर कई बड़ी कंपनियां शामिल है।  माना जा रहा है कि अब रिटेल सेक्टर में भी मुकेश अंबानी कुछ ऐसा ही धमाल करने का मन बना चुके हैं।