सोशल मीडिया पर फैल रही 2000 के नोट बंद होने की खबर, वित्त राज्यमंत्री ने दी सफाई

8 नवंबर 2016 की शाम से 500 और हजार रुपये के नोटों को अवैध करार दिया गया था. इसके साथ ही 2000 रुपये का नया नोट जारी किया गया था.
demonetisation of 2000 rupees note, सोशल मीडिया पर फैल रही 2000 के नोट बंद होने की खबर, वित्त राज्यमंत्री ने दी सफाई

सोशल मीडिया में 2000 रुपये के नोट को लेकर वायरल हो रही खबरों के मुताबिक 31 दिसंबर 2019 से 2000 रुपये के नोटों को बंद किया जा रहा है. वहीं मार्केट में 1 हजार रुपये का नया नोट आने की बात भी तेजी से फैल रही है. इन तमाम बातों को वित्त और कारपोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने खारिज किया है.

अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘फिलहाल 2000 रुपये का नोट बंद करने की कोई भी योजना सरकार नहीं कर रही है. नोटबंदी को लेकर सोशल मीडिया में वायरल तमाम मैसेज अफवाह हैं. इसके अलावा सरकार 1 हजार रुपये का नोट नहीं ला रही है, ये बात भी झूठी है.’

वित्त राज्यमंत्री ने कहा कि नोटबंदी का फैसला कालेधन को खत्म करने, नकली नोट प्रिंटिंग से बचने, आतंकवाद की फंडिंग रोकने और डिजिटलीकरण को बढ़ावा देने के लिए लिया गया था. जिसके चलते 8 नवंबर 2016 की शाम से 500 और हजार रुपये के नोटों को अवैध करार दिया गया था. इसके साथ ही 2000 रुपये का नया नोट जारी किया गया था.

बता दें कि सोशल मीडिया पर 2000 रुपये को लेकर तरह-तरह की खबरें वायरल होती रहती हैं, जैसे ATM से धीरे-धीरे हटाया जा रहा है. वहीं ये भी कहा गया कि देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI से इसकी शुरुआत हो गई है. वायरल खबरों में दावा किया गया कि, छोटे शहरों और कस्बों में मौजूद SBI के ATM में से RBI के निर्देश पर 2000 रुपये के नोट रखने के स्लॉट हटाए जा रहे हैं. बैंक इस स्लॉट की जगह 100 रुपये, 200 रुपये और 500 रुपये के स्लॉट बढ़ा रहे हैं.

इन तमाम वायरल खबरों को RBI के अधिकारियों ने पहले ही खारिज किया है. उन्होंने इस खबर को अफवाह बताया है. अधिकारियों ने 2000 के नोट बैन की खबर को पूरी तरह से गलत ठहराया है. RBI ने साफ किया है कि इस तरह का कोई आदेश उन्होंने किसी भी बैंक को नहीं दिया है. SBI के ATM से 2000 के नोट के स्लॉट को हटाने की खबर भी झूठी है. अधिकारियों  के मुताबिक इस तरह का कोई आदेश दिए जाने पर उससे जुड़े डॉक्यूमेंट्स को सबसे पहले RBI की वेबसाइट पर अपलोड किया जाता है. इसलिए इस तरह की किसी भी अफवाह पर लोग ध्यान न दें.

नतीजन RBI के मुताबिक 2000 रुपये के नोट अब भी प्रचलन में हैं और आगे भी रहेंगे. 2000 रुपये के नोट बंद होने और 1000 रुपये का नया नोट मार्केट में आने की तमाम खबरें झूठी हैं. इस तरह के किसी भी वाट्सएप मैसेज और फेसबुक पोस्ट पर यकीन न करें और न इन खबरों को शेयर करें

Related Posts