TikTok को खरीद सकता है Twitter, रेस में सबसे आगे Microsoft

चीनी कंपनी का ऐप होने की वजह से टिक-टॉक (tik tok ban) को पहले भारत और अब अमेरिका में बैन किया गया है. अब खबरें हैं कि इसे ट्विटर खरीद सकता है.
tiktok app ban, TikTok को खरीद सकता है Twitter, रेस में सबसे आगे Microsoft

क्या आनेवाले दिनों में टिक-टॉक को ट्विटर खरीदकर खुद में मिला लेगा? अमेरिकी शेयर मार्केट में इन दिनों ऐसी खबरें चल रही हैं. चीनी कंपनी के ऐप टिक-टॉक पर भारत के बाद अमेरिका ने भी बैन (tiktok app ban) लगा दिया है. अब कहा जा रहा है कि ट्विटर इस डील को क्रैक कर सकता है. बता दें कि अमेरिका ने टिक-टॉक को राष्ट्र की सुरक्षा के लिए खतरा बताकर बैन किया था.

अमेरिकी शेयर बाजार डाओ जोन्स में ट्विटर और टिक-टॉक को लेकर ऐसी खबरें हैं. हालांकि ट्विटर के लिए यह इतना आसान नहीं होगा. 29 बिलियन डॉलर की कंपनी ट्विटर को यह डील क्रैक करने के लिए दूसरे निवेशकों का सहारा लेना पड़ सकता है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

सबसे आगे माइक्रोसॉफ्ट का नाम
वैसे टिक-टॉक के संभावित खरीददारों की लिस्ट में सबसे आगे माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन का नाम चल रहा है. पिछले कुछ हफ्तों से माइक्रोसॉफ्ट और टिक-टॉक के बीच डील को लेकर बातचीत चल रही है. टिक-टॉक पेइचिंग बेसड कंपनी बाइटडांस लिमिटिड का एक ऐप है. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, डील के बारे में माइक्रोसॉफ्ट सीईओ सत्य नडेला ने अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से भी कुछ हफ्तों पहले बात की थी. हालांकि, अभी टिक-टॉक कोई आधिकारिक बयान देने से बच रहा है.

पढ़ें- TikTok बैन के बाद तेजी से बढ़े भारतीय एप चिंगारी के यूजर

ट्विटर के सीईओ जैक डोरसे पहले भी शॉर्ट वीडियो ऐप पर हाथ आजमाने की कोशिश कर चुके हैं. उन्होंने वाइन ऐप खरीदा था, लेकिन फिर चार साल बाद ही 2016 में उसे बंद करना पड़ा था. फिलहाल ट्विटर के रिश्ते अमेरिकी राष्ट्रपति से भी ठीक नहीं हैं. ट्रंप ने ट्विटर और फेसबुक पर उनको सेंसर करने का आरोप लगाया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts