Vodafone Idea की नई ब्रांडिंग: ‘VI’ लोगो के जरिए यूजर बेस बढ़ाने की कवायद, टैरिफ बढ़ाने के भी दिए संकेत

वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea ) इस नई ब्राडिंग के तहत अपने घट रहे यूजर बेस को फिर से बढ़ाना चाहती है।

  • TV9.com
  • Publish Date - 2:13 pm, Mon, 7 September 20

कर्ज की मुश्किलों से जूझ रही टेलिकॉम कंपनी ने वोडाफोन आइडिया ने आज अपनी नई पहचान लांच कर दी है. कंपनी का नया ब्रांड V! होगा. यानी वोडाफोन और आइडिया अपनी लोगो में भी साथ दिखेंगे. बाजार में फिर से एकबार अपनी मजबूत पकड़ बनाने के लिए कंपनी ने सोमवार को अपने ब्रांड की रीलॉन्चिंग की.

घट रहे यूजर बेज को बढ़ाना फोकस

लांचिंग के मौके पर अधिकारियों ने कहा कि नए ब्रांड को लाने के पीछे उद्देश्य कॉल्स की बेहतर गुणवत्ता और इसके जुड़ी सेवाओं की उत्कृष्टता सुनिश्चित करना है. इस ब्रांड के जरिए कंपनी ब्रांड के तहत उच्च गुणवत्ता के वादे पर ग्राहकों के एक नए वर्ग को आकर्षित करने का प्रयास कर रही है. साथ ही कंपनी इस ब्रांड को लाकर अपने घट रहे यूजर बेस को रोकना चाहती है। इस ब्रांड लांचिंग के साथ कंपनी ने अपने बेवसाइट का कलर भी चेंज कर दिया है.

डिजिटल इकोनॉमी पर फोकस

लांचिंग के मौके पर आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन ने कहा कि वोडाफोन और आइडिया दोनों ने नेटवर्क अनुभव, ग्रामीण कनेक्टिविटी, ग्राहक सेवा, उद्यम गतिशीलता समाधान और कई अन्य नए मानक स्थापित किए हैं.  बिड़ला ने आगे कहा कि 90 के दशक के मध्य से ही वोडाफोन और आइडिया दोनों ने विभिन्न अवतारों में सेक्टर के विकास को गति दी है. उन्होंने कहा ‘हम डिजिटल अर्थव्यवस्था को आगे ले जाने की दिशा में काम कर रहे हैं और इसको गति प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

जियो के बाद हुआ था विलय

वोडाफोन – आइडिया पहले दो अलग कंपनी हुआ करती थी.  लेकिन जियो के आने के बाद दोनों कंपनियों का आपस मे विलय हो गया था, इस विलय के बाद वोडाफोन-आइडिया एक कंपनी बन गई थी. लेकिन प्रतिस्पर्धा और कर्ज की मार से कंपनी का घाटा लगातार बढ़ता गया. वहीं एजीआर बकाये को समय से न चुकाने पर भी कंपनी पर दबाव बढ़ता गया. उम्मीद की जा रही है कि इस नए ब्राडिंग के कंपनी के सेहत में कुछ सुधार देखने को मिल सके.

टैरिफ में भी बदलाव

वोडाफोन आइडिया के सीईओ रविंदर टक्कर का कहना है कि कंपनी टैरिफ में बढ़ोतरी के लिए तैयार है. नए टैरिफ से कंपनी को एआरपीयू सुधारने में मदद मिलेगी. कंपनी का मौजूगा टैरिफ 114 रुपये है जबकि एयरटेल और जियो का एपीआरयू क्रमशः 157 रुपये और 140 रुपये है.