अब वॉलमार्ट इंडिया ने भी 56 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

साल 2007 में वॉलमार्ट कंपनी पहली बार भारत आई थी. कंपनी भारत में ज्यादा से ज्यादा अधिक स्टोर खेलने के साथ साथ टेक्नोलॉजी में भी भारी निवेश कर रही है.
Walmart India employees lay off retailer, अब वॉलमार्ट इंडिया ने भी 56 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

वॉलमार्ट इंडिया ने कंपनी को रीस्ट्रक्चर करने के क्रम में अपने 56 कर्मचारियों को निकाल दिया है. 28 कैश-एंड-कैरी स्टोर चलाने वाली कंपनी ने गुड़गांव में अपने कॉर्पोरेट ऑफिस में सीनियर और मीडियम लेवल के कर्मचारियों को निकाला है. अब कंपनी एक ओमनी-चैनल मॉडल के माध्यम से ग्राहकों की सेवा पर ध्यान देना चाहती है. ओमनी-चैनल मॉडल एक ऐसा तरीका है जो ग्राहकों के साथ सुविधाएं और जानकारी बेहतर तरीके से शेयर करता है.

वॉलमार्ट इंडिया के प्रेसीडेंट और सीईओ कृष अय्यर ने कहा कि, हम ज्यादा बेहतर तरीके से काम करने पर फोकस कर रहे हैं. बेहतर काम के लिए हमें कॉर्पोरेट स्ट्रक्चर पर पुनर्विचार की जरूरत है. हमने अभी हाल ही में कॉर्पोरेट रीव्यू किया था जिसमें वॉलमार्ट के 56 कर्मचारियों को निकाला गया है. मीडियम और सीनियर लेवल के इन अधिकारियों विस्थापन और कंपनशेसन भी ऑफर किया गया है. अय्यर ने कहा कि साल 2007 में वॉलमार्ट कंपनी पहली बार भारत आई थी. कंपनी भारत में ज्यादा से ज्यादा अधिक स्टोर खेलने के साथ साथ टेक्नोलॉजी में भी भारी निवेश कर रही है.

वॉलमार्ट ने एक दौर की छटनी कर देने के बाद दूसरे दौर की छंटनी की अफवाहों को सिरे से खारिज कर दिया है.

वॉलमार्ट इंडिया, वॉलमार्ट इंक की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है और देश में 28 बेस्ट प्राइस मॉडर्न होलसेल स्टोर्स चलाती है. 2013 में दो अलग-अलग तरीकों से वॉलमार्ट ने अपने दम पर भारत में कैश-कैरी कारोबार का निर्माण किया.

ये भी पढ़ें- सुनवाई से पहले उन्नाव रेप केस पीड़िता के पिता का इलाज करने वाले डॉक्टर की संदिग्ध मौत

Related Posts