Faceless Assessment, Faceless Appeal, और Taxpayers Charter क्या है, क्या होगा फायदा जानिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज इनकम टैक्स व्यवस्था में तीन नए बदलावों का जिक्र किया. जानिए फेसलेस असेसमेंट, फेसलेस अपील और टैक्सपेयर चार्टर (Faceless Assessment Faceless Appeal Taxpayers Charter) क्या है.
Faceless Assessment Faceless Appeal Taxpayers Charter, Faceless Assessment, Faceless Appeal, और Taxpayers Charter क्या है, क्या होगा फायदा जानिए

ईमानदार टैक्सपेयर्स को नरेंद्र मोदी सरकार की तरफ से आज तीन तोहफे दिए गए हैं. प्रधानमंत्री ने खुद सामने आकर फेसलेस असेसमेंट, फेसलेस अपील और टैक्सपेयर चार्टर (Faceless Assessment Faceless Appeal Taxpayers Charter) का जिक्र किया. ये तीनों इनकम टैक्स से संबंधित नए प्लेटफॉर्म पर मिलेंगे। ये कदम सरकार की दखल कम करने, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में जान-पहचान बनाने का मौका भी ‘जीरो’ कर दिया गया है.

क्या है फेसलेस असेसमेंट और फेसलेस अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि Faceless Assessment में टैक्सपेयर कौन है और टैक्स ऑफिसर कौन है इससे कोई मतलब ही नहीं होगा. दरअसल, अभी तक होता यह आया है कि आप जिस शहर में रहते हैं वहीं का टैक्स डिपार्टमेंट आपसे जुड़े किसी मामले को हेंडल करता है. ऐसे में लोग कई बार बचने के जुगाड़ निकाल लेते हैं. लेकिन अब ऐसा होने के चांस नहीं रहेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि अब जांच, नोटिस, सर्वे में उस शहर की भूमिका को ही खत्म कर दिया गया है.

पढ़ें- ईमानदार टैक्सपेयर्स को PM नरेंद्र मोदी का गिफ्ट

अब तकनीक से जांच के मामले हैंडल होंगे. मतलब उस मामले को तकनीक की मदद से रैंडम किसी भी जगह के अधिकारी या टैक्स डिपार्टमेंट के पास भेजा जाएगा. पीएम ने उदाहरण देकर समझाया कि जैसे मुंबई का कोई टैक्स का मामला अब मुंबई के टैक्स डिपार्टमेंट को न जाके चेन्नै, गुवाहाटी, रायपुर या कहीं भी जा सकता है.

इसके साथ-साथ डिपार्टमेंट का जांच के बाद जो आदेश जो निकलेगा उसका रिव्यू किसी दूसरे शहर में होगा. मोदी ने बताया कि फेसलेस टीम कौन सी होगी, अधिकारी कौन होगा सब कंप्यूटराइजड तरीके से बदलता रहेगा. मोदी ने बताया कि Faceless Appeal का काम भी इसी तरह फेसलेस होगा.

टैक्सपेयर चार्टर क्या है

पीएम मोदी ने बताया कि Taxpayers Charter विकास देश की यात्रा में यह अहम कदम है. इससे सरकार की जिम्मेदारी बढ़ेगी और दखल घटेगी. अब आयकर विभाग को टेक्सपेयर के आत्मसम्मान का पूरा ध्यान रखना होगा. डिपार्टमेंट उसे बिना किसी आधार के शक की निगाह से नहीं देख सकता. अगर कोई शक होता है तो भी इसमें टेक्सपेयर को अपील और समीक्षा का मौका दिया गया है.

पीएम मोदी ने बताया कि फेसलेस असेसमेंट और टैक्स पेयर चार्टर (Faceless Assessment or Taxpayers Charter) आज से लागू हो रहे हैं. वहीं फेसलेस अपील (Faceless Appeal) अगले महीने से लागू होगा.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts