प्रदीप कुमार जोशी बने UPSC के नए चेयरमैन, 2015 में सदस्य के रूप में हुए थे शामिल

अधिकारियों ने कहा कि जोशी (Pradeep Kumar Joshi), अरविंद सक्सेना (Arvind Saxena) की जगह लेंगे, जिनका कार्यकाल आज यानि शुक्रवार को पूरा हो गया है.
pradeep kumar joshi, प्रदीप कुमार जोशी बने UPSC के नए चेयरमैन, 2015 में सदस्य के रूप में हुए थे शामिल

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) ने प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी (Pradeep Kumar Joshi) को नया अध्यक्ष नियुक्ति किया है. यूपीएससी द्वारा भारत के नौकरशाहों और राजनयिकों का चयन करने के लिए सिविल सेवा परीक्षा आयोजित की जाती है. अधिकारियों ने कहा कि जोशी, अरविंद सक्सेना (Arvind Saxena) की जगह लेंगे, जिनका कार्यकाल आज यानि शुक्रवार को पूरा हो गया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

2015 में यूपीएससी के सदस्य के रूप में शामिल हुए

प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी 12 मई, 2021 तक यूपीएससी के अध्यक्ष पद का कार्यभार संभालेंगे. वो मई में 2015 में यूपीएससी के सदस्य के रूप में शामिल हुए थे. इससे पहले जोशी मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ पब्लिक सर्विस कमीशन के अध्यक्ष थे.

वहीं, जब जोशी की नियुक्ति अध्यक्ष के तौर पर हो गई है, तो यूपीएससी में एक सदस्य की जगह खाली है. अब देखना होगा कि इस जगह के लिए यूपीएससी किसे नियुक्त करता है.

ये हैं यूपीएससी के सदस्य

फिलहाल, भीम सेन बस्सी, एयर मार्शल एएस भोंसले (रिटायर्ड), सुजाता मेहता, मनोज सोनी, स्मिता नागराज, एम साथियावती भारत भूषण व्यास, टीसीए अनंत और राजीव नयन चौबे आदि यूपीएससी के सदस्य हैं.

यूपीएससी देश में अलग-अलग ब्यूरोक्रेट पोस्ट्स के लिए हर साल सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन करता है. यह परीक्षा तीन चरणों में आयोजित हैं, जिनमें प्रारंभिक, मुख्य और इंटरव्यू शामिल हैं. उम्मीदवारों का चयन इंडियन एडमिनिस्ट्रेशन सर्विस (IAS), इंडियन पुलिस सर्विस (IPS) और इंडियन फॉरेन सर्विस (IFS) और अन्य ग्रेड A और B लेवल सर्विसेज के अधिकारियों के रूप में किया जाता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts