UPSC Civil Services Exam 2020: किसी सवाल पर है आपत्ति तो इस लिंक के ज़रिए मिलेगा समाधान

4 अक्टूबर को यूपीएससी सिविल सेवा प्रिलिम्स 2020 (UPSC Pre 2020) परीक्षा में उपस्थित हुए सभी उम्मीदवार प्रश्नपत्रों में पूछे गए प्रश्नों पर आयोग को निवेदन भेजकर अपनी परेशानी का हल पा सकते हैं.

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने रविवार को आयोजित सिविल सेवा प्रिलिम्स परीक्षा 2020 में दिए गए प्रश्नों पर आपत्ति दर्ज कराने के लिए ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर रिप्रजेंटेशन पोर्टल (QPRep) सक्रिय कर दिया है. ये पोर्टल उन उम्मीदवारों के लिए शुरू किया गया है, जिन्हें सिविल सेवा प्रिलिम्स परीक्षा के प्रश्नपत्रों में पूछे गए प्रश्नों से संबंधित किसी तरह की कोई आपत्ति है या किसी प्रश्न की रूररेखा को लेकर संघ लोक सेवा आयोग से किसी तरह का कोई सवाल करना है.

4 अक्टूबर को यूपीएससी सिविल सेवा प्रीलिम्स 2020 परीक्षा में उपस्थित हुए सभी उम्मीदवार प्रश्नपत्रों में पूछे गए प्रश्नों पर आयोग को निवेदन भेजकर अपनी परेशानी का हल पा सकते हैं. उम्मीदवार अपने प्रश्नपत्र से संबंधित अपने विचार, राय और समस्या को यूपीएससी की साइट upsconline.nic.in पर जाकर ‘ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर रिप्रजेंटेशन पोर्टल के माध्यम से संघ लोक सेवा आयोग के सामने रख सकते हैं. पोर्टल पर अपनी आपत्ति दर्ज कराने की अंतिम तिथि 11 अक्टूबर है, उम्मीदवार 11 अक्टूबर से पहले कभी-भी आयोग को प्रश्नपत्र से संबंधित निवेदन भेज सकते हैं.

यह भी पढ़ें: IIT की सीट नहीं लेंगे JEE Advance टॉपर, क्या परीक्षा के कट-ऑफ मार्क्स में भारी गिरावट है वजह?

ऑनलाइन ऐसे करें सवाल:

1. यूपीएससी की ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जाएं.

2. होमपेज पर टाइम फ्रेम फॉर रिप्रजेंटेशन पर क्लिक करें.

3. सभी विवरणों के साथ पीडीएफ फाइल उपलब्ध हो जाएगी.

4. पीडीएफ में दर्शाए गए लिंक के माध्यम से अपना समस्या सबमिट करें.

उम्मीदवार केवल ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर रिप्रजेंटेशन पोर्टल के माध्यम से ही निवेदन भेज सकते हैं, ईमेल, पोस्ट या किसी ओर माध्यम से भेजा गया निवेदन आयोग द्वारा स्वीकार नहीं किया जाएगा. अंतिम तारीख बीत जाने के बाद किसी तरह के निवेदन को आयोग स्वीकार नहीं करेगा.

यह भी पढ़ें: पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री कोरोना पॉजिटिव, कल रैली में साथ थे राहुल गांधी-अमरिंदर सिंह

बता दें यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा प्रिलिम्स परीक्षा 2020 का आयोजन कोरोना महामारी के बीच रविवार 4 अक्टूबर को किया गया था. इस परीक्षा के लिए 10 लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया था. छात्रों के अनुसार UPSC सिविल सेवा पेपर 1 (GS) कठिन था, मगर पूरा पेपर लगभग एवरेज रहा. यूपीएससी की एक उम्मीदवार दिव्या चोपड़ा ने कहा यूपीएससी प्रिलिम्स 2020 पेपर 1 में कई प्रश्न कंफ्यूजिंग थे, मगर पूरा पेपर सामान्य था.

Related Posts