छत्तीसगढ़: नक्सलियों में कोरोना का खौफ, महिला नक्सली को सर्दी-खांसी के बाद संगठन ने किया बाहर

नक्सली (Naxalites) सुमित्रा को पिछले कुछ दिनों से सर्दी-खांसी थी, जिसके बाद नक्सली नेताओं ने महिला को संगठन से बाहर कर दिया. अब पुलिस ने सुमित्रा को गिरफ्तार कर उसे जेल की बजाए क्वारन्टीन सेंटर भेजा है, जहां सुमित्रा का इलाज चल रहा है.
Chhattisgarh Naxals, छत्तीसगढ़: नक्सलियों में कोरोना का खौफ, महिला नक्सली को सर्दी-खांसी के बाद संगठन ने किया बाहर
File Pic-naxal

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सलियों को कोरोनावायरस (Coronavirus) का खौफ इस कदर सता रहा है कि एक महिला नक्सली को सर्दी-खांसी होने के बाद नक्सली नेताओं ने उसे संगठन से बाहर कर दिया.

दरअसल, सुमित्रा पिछले 10 सालों से नक्सली संगठन में सक्रिय थी. नक्सली नेताओं द्वारा संगठन से बाहर निकाले जाने के बाद अब छत्तीसगढ़ पुलिस ने सुमित्रा को क्वारन्टीन किया है. पुलिस सुमित्रा की COVID-19 जांच भी करवा रही है.

जानकारी के मुताबिक बीजापुर पुलिस को जानकारी मिली थी कि एक संदिग्ध महिला मोदकपाल इलाके में पहुंची हुई है. पुलिस ने महिला से पूछताछ की तो पता चला कि सुमित्रा नक्सलियों के बटालियन नंबर 1 की सदस्य है. बटालियन नंबर 1 का कमांडर हिड़मा है, जो कि बस्तर में हुए अधिकांश बड़े हमलों के लिए जिम्मेदार है.

सुमित्रा को पिछले कुछ दिनों से सर्दी-खांसी थी, जिसके बाद नक्सली नेताओं ने कोरोना के खौफ से सुमित्रा को संगठन से बाहर कर दिया. अब पुलिस ने सुमित्रा को गिरफ्तार कर उसे जेल की बजाए क्वारन्टीन सेंटर भेजा है, जहां सुमित्रा का इलाज चल रहा है.

पुलिस सुमित्रा का कोरोना टेस्ट भी करवा रही है. बस्तर पुलिस आईजी सुंदरराज ने ग्रामीणों से अपील की है कि किसी भी तरह का संदिग्ध नक्सली नजर आने पर पुलिस की सूचना दें.

Related Posts