6km जंगल में पैदल चले CRPF के जवान, चारपाई की पालकी बना गर्भवती महिला को पहुंचाया अस्पताल

महिला की तबीयत खराब होने की जानकारी सीआरपीएफ के जवानों को उस समय लगी जब वे पडेडा के जंगलों में पेट्रोलिंग कर रहे थे.

छत्तीसगढ़ के कई इलाके नक्सल प्रभावित हैं. ऐसे में सेना के जवानों के सामने कई समस्याएं पहाड़ की तरह खड़ी रहती हैं. कई समस्याओं का सामना केवल जवान ही नहीं करते बल्कि इन नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाली आम जनता भी करती है.

ऐसे में सेना के जवान इन ग्रामीणों के लिए भगवान के रूप में सामने आते हैं. हाल ही में एक बार फिर कोरमा-पडेडा नक्सल एरिया में सीआरपीएफ के जवान ग्रामीणों के लिए मददगार के रूप में सामने आए.

दरअसल हुआ ये कि एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा हुई, जिसके बाद सीआरपीएफ की 85वीं बटैलियन उस महिला की मदद के लिए आगे आई.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यहां गांव में न तो पक्की सड़क है और न ही कोई अन्य सुविधाएं. ऐसे में गर्भवती महिला को अस्पताल तक ले जाने का कोई भी इंतजाम नहीं था, जिसके बाद सीआरपीएफ के जवानों ने महिला को चारपाई पर लादकर छह किलोमीटर चलकर अस्पताल तक पहुंचाया.

महिला की तबीयत खराब होने की जानकारी सीआरपीएफ के जवानों को उस समय लगी जब वे पडेडा के जंगलों में पेट्रोलिंग कर रहे थे.

जवानों ने बिना समय गंवाते हुए चारपाई की पालकी बनाई और उस पर महिला को बिठाया. इसके बाद छह किलोमीटर चल वे महिला को मुख्य सड़क तक लेकर आए, जहां से गाड़ी के जरिए महिला को अस्पताल पहुंचाया गया.

 

ये भी पढ़ें-   अलर्ट: 31 जनवरी से 23 पॉलिसी बंद करेगी LIC, कहीं आपने भी तो नहीं ले रखा ये प्लान

दिल्ली में BJP से गठबंधन पर JDU नेता पवन वर्मा नाराज, बोले- विचारधारा साफ करें नीतीश