छत्तीसगढ़: सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराए 7 नक्सली, सर्च ऑपरेशन जारी

सुरक्षाबलों ने घटनास्थल से AK- 47, 303 रायफल, सिंगल शॉट रायफल, प्रेशर बम, गोला बारूद, नक्सली साहित्य सहित भारी मात्रा में दैनिक उपयोग के सामान बरामद किए हैं.

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में सात नक्‍सलियों को मार गिराया है. राज्‍य के डीजीपी डीएम अवस्‍थी ने इस घटना की जानकारी दी है. उन्‍होंने बताया कि सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है. साथ ही घटनास्थल के आसपास के इलाकों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई.

‘नक्सली सप्ताह’ के दौरान हुई वारदात
नक्सली छत्तीसगढ़ में 28 जुलाई से 3 अगस्त तक ‘नक्सली सप्ताह’ मना रहे थे और जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में लगातार घटनाओं को अंजाम दे रहे थे. वहीं, छत्तीसगढ़ पुलिस ने भी सर्जरी बढ़ा रखा थी. इसी कड़ी में राजनांदगांव जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र की पहाड़ियों से लगे जंगल में 40 से 50 नक्सलियों के बड़े कंमाडर्स के होने की सूचना मिली थी.

इसके बाद जिला पुलिसबल, डीआरजी और सीएएफ की संयुक्त टीम सुबह में जंगल के लिये रवाना हुई. लगभग 8 बजे सीतागोटा से लगभग 10 किलोमीटर अंदर जंगल में पहुंचने पर नक्सलियों ने फोर्स पर फायरिंग शुरू कर दी. इस पर फोर्स ने भी जवाबी फायरिंग की. लगभग दो घंटे चली इस मुठभेड़ में सात नक्सली मारे गए.

पहाड़ियों का फायदा उठाकर भाग गए नक्सली
मुठभेड़ में अपने आप को कमजोर पाते देख नक्सली जंगल और पहाड़ियों का फायदा उठाकर वहां से भाग निकले. घटना स्थल से पुलिस ने 5 महिला 2 पुरुष नक्सलियों के शव और AK- 47, 303 रायफल, 12 बोर बंदूक, सिंगल शॉट रायफल, प्रेशर बम, गोला बारूद, नक्सली साहित्य सहित भारी मात्रा में दैनिक उपयोग के सामान बरामद किए.

मालूम हो कि सरकार ने हाल ही में आतंकवाद और देख विरोधी गतिविधियों के खिलाफ लड़ाई में सुरक्षा एजेसिंयों के हाथ और मजबूत कर दिए हैं. राज्यसभा से गैर-कानूनी गतिविधियों के रोकथाम (संशोधन) विधेयक UAPA Bill को मंजूरी मिल चुका है. इससे NIA अब देश के खिलाफ गैर-कानूनी गतिविधियों में शामिल ऐसे किसी भी व्यक्ति को आतंकी घोषित कर सकेगी.

ये भी पढ़ें-

Photos: भारी बारिश से मुंबई में जारी हुआ रेड अलर्ट, हाई टाइड की संभावना; इन शहरों का भी बुरा हाल

उन्नाव रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के हथियारों का लाइसेंस रद्द, 15 महीने बाद आया फैसला

ट्रक मालिक की नंबर प्लेट मिटाने की दलील निकली झूठी, समय पर दे रहा था EMI: उन्नाव केस में नया खुलासा