सावरकर ने की थी दो राष्‍ट्र की मांग, अंग्रेजों से दर्जन बार माफी मांगी: सीएम भूपेश बघेल

छत्‍तीसगढ़ सीएम ने कहा कि जेल से छूटने के बाद, सावरकर ने देश की आजादी के आंदोलन में हिस्‍सा नहीं लिया.

रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि विनायक दामोदार सावरकर ने अंग्रेजों से ‘दर्जन बार माफी’ मांगी थी. बघेल ने कहा कि दो राष्‍ट्र की कल्‍पना भी सावरकर की ही देन थी. उन्‍होंने कहा कि ये सब ऐतिहासिक तथ्‍य हैं जिसे कोई झुठला नहीं सकता.

छत्‍तीसगढ़ सीएम ने एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, “सावरकर जी देश की आजादी में लड़ाई लड़े थे. उन्‍हें जेल हुई थी. अंडमान-निकोबार की सेल में रखा गया था. अंग्रेजों से उन्‍होंने एक बार नहीं, दर्जन बार माफी मांगी और जेल से छूटने के बाद, देश की आजादी के आंदोलन में भाग नहीं लिया.

“जिन्‍ना ने लागू की सावरकर की मांग”

बघेल ने आगे कहा, “दो देश की कल्‍पना उन्‍होंने की थी. ये ऐतिहासिक तथ्‍य है. हिंदू महासभा में विनायक दामोदार सावरकर ने प्रस्‍ताव रखा था कि हिंदुस्‍तान आजाद हो तो दो राष्‍ट्र के रूप में हो. धार्मिक आधार पर दो राष्‍ट्र की मांग उन्‍होंने रखी और जिन्‍ना ने उसे लागू किया. इसे कोई झुठला नहीं सकता.

बघेल के बयान पर BJP सांसद राकेश सिन्‍हा ने कहा, “भूपेश बघेल का यह बयान अपवाद स्वरूप नहीं है. कांग्रेस पार्टी में युग परिवर्तन हुआ है. राहुल सोनिया के समर्थक का मूल्यांकन मार्क्सवादी लोगों के द्वारा लिखी गई पुस्तकों को पढ़कर है. जो काम मुस्लिम लीग पाकिस्तान बनाने से पहले कर रही थी, वही काम आज राहुल सोनिया और उनके लोग कर रहे हैं. उनको (सावरकर) जिन्ना के समांतर खड़ा करना गलत है.”

प्रधानमंत्री पद के लिए चुने गए नरेंद्र मोदी तथा भाजपा के कई अन्य नेताओं ने मंगलवार को विनायक दामोदर सावरकर को उनकी 136वीं जयंती उन्हें याद किया. मोदी ने ट्वीट किया, “वीर सावरकर की जयंती पर हम उन्हें नमन करते हैं. वीर सावरकर साहस, देशभक्ति और सशक्त भारत के निर्माण के लिए असीम प्रतिबद्धता के प्रतीक हैं. उन्होंने कई लोगों को राष्ट्र निर्माण के लिए समर्पित होने के लिए प्रेरित किया.

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने भी ट्वीट किया, “स्वतंत्रता संग्राम के दौरान किए गए उनके त्याग को देश हमेशा याद रखेगा.” अन्य भाजपा नेताओं- अरुण जेटली, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और राजनाथ सिंह ने भी उन्हें याद किया.

ये भी पढ़ें

चंद्रशेखर आज़ाद को सावरकर ने दी थी जिन्ना की सुपारी!

राजस्थान के स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली सावरकर की जीवनी में बदलाव करेगी कांग्रेस सरकार