एक महीने का था तो हुई पिता की हत्या, 29 साल बाद लिया बदला

लखनऊ के पास गोसाईंगंज के एक गांव में रविवार रात एक हत्या हो गई थी. घटना का खुलासा हुआ तो ये फिल्मी कहानी पता चली.

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में हत्या का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. एक लड़के ने किसी फिल्मी कहानी की तरह अपने पिता की हत्या का बदला लिया. जब पिता की हत्या हुई तो उसकी उम्र महज़ एक माह थी. उस हत्या का बदला लेने के लिए 29 साल इंतजार किया और पिता के कातिल से दोस्ती भी की.

मामला गोसाईंगंज थानाक्षेत्र के महुरकला गांव का है. यहां रामपुर निवासी 68 साल के सुंदरलाल रावत कि रविवार रात आठ बजे धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गई. सुंदरलाल के पुत्र आसाराम ने शिकायत दर्ज कराते हुए गांव के ही कल्याण सिंह रावत पर हत्या का आरोप लगाया. कल्याण अपने घर से फरार था, पुलिस ने तलाश शुरू कर दी. सोमवार को गंगागंज में कल्याण पुलिस की गिरफ्त में आ गया.

29 साल पुरानी दुश्मनी

पूछताछ में कल्याण ने बताया कि उसके पिता राम स्वरूप की 1990 में हत्या कर दी गई थी. सुंदरलाल ने ये हत्या की थी और उसे सज़ा भी हुई थी. उस वक्त कल्याण की उम्र एक महीने से भी कम थी. उसकी मां ने पिता की हत्या की बात बताई तो बचपन से ही कल्याण के मन में बदले की आग जल रही थी. इस काम को अंजाम देने के लिए कल्याण ने सुंदरलाल से दोस्ती की. रविवार को कल्याण ने मौका देखकर बांके से ताबड़तोड़ वार करके सुंदरलाल की हत्या कर दी. पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया हुआ बांका भी बरामद कर लिया है.

ये भी पढ़ें:

बुराड़ी कांड के एक साल बाद हुई घटना, एक ही परिवार के 4 सदस्यों की मौत

7 दिन पहले मां बनी थी बेटी, शादी से नाराज परिजनों ने कर दी हत्या

ओडिशा: स्‍कूल में पढ़ा रही थी टीचर, बच्‍चों के सामने ही गंडासे से काट डाला