यूपी के मऊ में सपा नेता का मर्डर, सिर में गोली मार फरार हुए बदमाश

घटना की सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस मौंके पर पहुंची. पुलिस अधीक्षक भी घटनास्थल पर पहुंचे और वारदात का जायजा लिया.
Samajwadi Party Leader, यूपी के मऊ में सपा नेता का मर्डर, सिर में गोली मार फरार हुए बदमाश

यूपी के मऊ जिला के कोपागंज ब्‍लॉक के बरजला शेखवलिया गांव में रविवार सुबह टहलने गए समाजवादी पार्टी (सपा) के एक स्थानीय नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक बिजली यादव पूर्व ग्रामप्रधान थे. वह सुबह टहलने गए थे, जहां बाइकसवार हमलावरों ने उन पर गोलियों की बौझार कर दी.

रिपोर्ट के मुताबिक, सपा नेता अपने गांव के पास टहल रहे थे. उसी दौरान बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी और फरार हो गये. गोली लगने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई. घटना की सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस मौंके पर पहुंची. पुलिस अधीक्षक भी घटनास्थल पर पहुंचे और वारदात का जायजा लिया.

कुछ ही समय में मृतक के सैकड़ों समर्थक घटनास्थल पर इकट्ठे हो गए और स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. एफआईआर दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पुलिस ने कहा कि जांच शुरू हो चुकी है.

Samajwadi Party Leader, यूपी के मऊ में सपा नेता का मर्डर, सिर में गोली मार फरार हुए बदमाश

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिजली यादव की हत्या पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह हत्या प्रदेश की बिगड़ती कानून-व्यवस्था का एक और सबूत है.

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि ‘सूचना मिली की आज सुबह एक पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. डॉग स्‍क्‍वॉड सहित तमाम टीमों को जांच पड़ताल के लिए लगा दिया गया है. मृतक की पत्नी के तहरीर पर केस दर्ज किया जा रहा है. घटना को अंजाम देने वालों को जल्द गिरफ्तार कर सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.’

वहीं, सपा एमएलसी राम जतन राजभर ने बताया कि मृतक बिजली यादव साफ छवि के मिलनसार व्यक्ति थे. उनकी किसी से भी कोई दुश्मनी नहीं थी. एसपी अनुराग यादन ने उनके हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है.

ये भी पढ़ें-

200 से अधिक शिक्षकों-कुलपतियों ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी- लेफ्ट विंग ने देशभर में बिगाड़ा शिक्षा का माहौल

CAA के खिलाफ शाहीन बाग में प्रदर्शन, मीनाक्षी लेखी बोलीं- लोग खुद घर चले जाएं तो बेहतर

मोदी सरकार के सभी मंत्रालयों में कॉस्ट कटिंग, यात्रा-खाने और कॉन्फ्रेंस पर 20 फीसदी कम होगा खर्च

Related Posts