यूपी पुलिस की गैंगस्टर्स के खिलाफ कार्रवाई, उन्नाव और लखीमपुर खीरी में अवैध संपत्तियां कुर्क

दूसरी तरफ, अपराधियों (Criminals) पर अंकुश लगाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत शातिर अपराधियों गैंगस्टर जाबिर और साबिर का आखिरकरा घर ढ़हा दिया गया. गैंगस्टर जाबिर फरार चल रहा था, जबकि साबिर एक पब्लिक मुठभेड़ में पहले ही मारा जा चुका है.

यूपी (UP) के उन्नाव जिले (Unnao District) में गैंगस्टर अपराधी के खिलाफ पुलिस (Police) ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस टीम ने अवैध तरीके से अर्जित की गई संपत्ति (Property) कुर्क कर ली है. भारी फोर्स के साथ जेसीबी लेकर पुलिस टीम पहुंची थी. गैंगस्टर सुशील कुमार (Gangster Sushil Kumar) की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई हुई है. आरोपी की 5 दुकानें, महिंद्रा पिकअप और एक अर्टिगा कार समेत 29 लाख की संपत्ति जब्त कर कुर्क की गई है.

आरोपी मिलावटी नकली डीजल बना कर बिक्री करता था. पुलिस की कार्रवाई के बाद इस पर मुकदमा दर्ज हुआ था. यह उन्नाव जिले के कोतवाली हसनगंज कस्बे का मामला है.

लखीमपुर के गैंगस्टर जाबिर-साबिर का घर ढ़हाया

दूसरी तरफ, अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह के आदेश पर शातिर अपराधियों गैंगस्टर जाबिर और साबिर आखिर घर ढ़हा दिया गया है. गैंगस्टर जाबिर फरार चल रहा था, जबकि साबिर एक पब्लिक मुठभेड़ में पहले ही मारा जा चुका है.

जिले में ईसानगर थाना क्षेत्र के त्रिकौलिया गांव निवासी गैंगस्टर जाबिर और साबिर शातिर अपराधी हैं. इनके विरुद्ध ईसानगर थाने में हत्या, लूट, डकैती, बलात्कार गैंगस्टर सहित तीस आपराधिक मामले दर्ज हैं. इसके अलावा पड़ोसी जनपद सीतापुर और बहराइच जिले में भी इनका आतंक था.

डैकती के दौरान पब्लिक इनकाउंटर में मारा गया साबिर

बीती 9 अप्रैल को साबिर घाघरा नदी के पार बेला गढ़ी के एक गांव लोधपुरवा में डैकती के दौरान पब्लिक इनकाउंटर में मारा गया था. जबकि, उसका भाई साबिर फरार हो गया था जिसकी पुलिस को तलाश थी.

मामले में डीएम कोर्ट के आदेश पर तहसीलदार, सीओ, कोतवाल धौरहरा, ईसानगर कोतवाल राजस्व निरीक्षक जेसीबी मशीन लेकर गैंगस्टर जाबिर के घर पहुंचे. यहां घर पर उनके पिता सुल्तान मिले. सुल्तान की मौजूदगी में मकान ढ़हा दिया गया. साथ ही घरेलू चल-अचल संपत्ति भी कुर्क कर ली गई है.

Related Posts