कौन है 50 बम धमाकों का जिम्मेदार ‘डॉक्टर बॉम्ब’, MBBS डिग्री लेकर इलाज करने की बजाय बन गया आतंकी

अंसारी का बनाया गया मॉड्यूल बाबरी मस्जिद विध्वंस का बदला लेने के लिए देश भर में कई सीरियल ब्लास्ट को अंजाम देने का जिम्मेदार था. इस दौरान हैदराबाद, मालेगांव, अजमेर, पुणे, राजधानी एक्सप्रेस सहित देश के कई इलाकों में धमाके किए गए थे.

असली नाम डॉ. जलीस अंसारी अंसारी. कुख्यात नाम ‘डॉक्टर बॉम्ब.’ इस शख्स पर 50 से ज्यादा बम धमाकों की साजिश रचने का आरोप है. अजमेर जेल से पैरोल पर मुंबई आया हुआ ये मोस्ट वांटेड आतंकी भाग निकला है. मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड इसे तलाशने के मिशन पर लग चुके हैं. ये खूंखार आतंकी कौन है, आइए जानते हैं.

जलीस अंसारी एक एमबीबीएस डिग्रीधारी डॉक्टर है लेकिन उसने जिंदगियां बचाने की बजाय जिंदगी छीनने वाला पेशा चुना, उसने बम बनाने में महारत हासिल कर ली. देश भर में उसने 50 से ज्यादा बम धमाकों को अंजाम दिया, यानी हर धमाके से किसी न किसी रूप में जुड़ा रहा. इसी वजह से उसे डॉ बॉम्ब कहा जाने लगा.

पाकिस्तान में सीखा बम बनाना

डॉ. बॉम्ब सिमी और इंडियन मुजाहिदीन जैसे आतंकी संगठनों के साथ मिलकर काम कर रहा था. इन्हीं संगठनों की मदद से पाकिस्तान में उसे बम बनाने की ट्रेनिंग मिली. उसे पहली बार 1994 में सीबीआई ने गिरफ्तार किया, उसके ऊपर राजधानी एक्सप्रेस में बम रखने का आरोप था.

जलीस अंसारी आतंकवादी अब्दुल करीम टुंडा का साथी था. अंसारी का बनाया गया मॉड्यूल बाबरी मस्जिद विध्वंस का बदला लेने के लिए देश भर में कई सीरियल ब्लास्ट को अंजाम देने का जिम्मेदार था. इस दौरान हैदराबाद, मालेगांव, अजमेर, पुणे, राजधानी एक्सप्रेस सहित देश के कई इलाकों में धमाके किए गए थे.

सरेंडर से एक दिन पहले फरार

डॉ.अंसारी अजमेर जेल में सजा काट रहा था. वह पैरोल पर मुंबई अपने परिवार के पास आया हुआ था. गुरुवार को अंसारी की पैरोल खत्म हो रही थी और शुक्रवार सुबह उसे वापस जेल पहुंचना था. लेकिन उससे पहले ही गुरुवार को मोमिनपाड़ा में अंसारी के परिवार वालों ने मुंबई के अग्रीपाड़ा पुलिस स्टेशन पहुंच कर बताया कि वह लापता हो गया है.

पुलिस के मुताबिक, अंसारी गुरुवार सुबह करीब 5 बजे नमाज के लिए निकला लेकिन घर वापस नहीं लौटा. फोन पर उससे संपर्क किया, तो उसका फोन बंद पाया गया. इसके बाद अग्रीपाड़ा पुलिस ने अंसारी के बारे में कंट्रोल रूम और ATS को एक एसओएस अलर्ट भी भेजा.

मुंबई पुलिस, क्राइम ब्रांच, महाराष्ट्र ATS सहित सभी दूसरी एजेंसियों ने अंसारी की तलाश में ऑपरेशन शुरू किया. मुबंई पुलिस कंट्रोल रूम सहित स्टेट कंट्रोल रूम और मुंबई पुलिस के CCTV कंट्रोल रूम को भी अलर्ट कर दिया गया है.

ये भी पढ़ेंः

पेट में छिपा रखी थी 10 करोड़ की ड्रग्स, निकलवाने के लिए खिलाने पड़े 10 दर्जन केले

पति ने निर्ममता से की गर्भवती पत्नी की हत्या, शव को काटने के बाद पीसा और जलाया