कानून से बचा तो मैं मार दूंगी, पापी ने क्यों लिया मेरे घर जन्म, जानें और क्या बोलीं अलवर गैंगरेप आरोपी की मां

आरोपी महेश गुर्जर की मां ने खुद को भी कोसा कि यह उनके पिछले जन्म के पापों का नतीजा है, जो महेश गुर्जर जैसे बेटे ने उनकी कोख से जन्म लिया.

अलवर: कल यानि 12 अप्रैल, 2019 को देशभर में जहां मदर्स डे मनाया जा रहा था, वहीं दूसरी ओर राजस्थान के अलवर में हुए जघन्य अपराध गैंगरेप के आरोपियों की मां अपने बेटों के जन्म का दुख मना रही थीं. इन मां का कहना था कि जिन बेटों के जन्म पर उन्होंने खुशी मनाई थी, उन्हें नहीं पता था कि वे ऐसे राक्षस निकलेंगे.

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गैंगरेप के आरोपी हंसराज की इस शर्मसार कर देने वाली करतूत पर उसकी मां संजना देवी ने कहा कि, उनके बेटे की इस घटिया हरकत से वे बहुत ही शर्मसार हैं. इतना ही नहीं उन्होंने अपने बेटे को सख्त से सख्त सजा मिलने की मांग भी की है.

संजना देवी ने कहा कि जब हंसराज ने जन्म लिया था, पूरे घर ने खुशी मनाई थी, लेकिन हमें नहीं पता था कि ये इंसान के रूप में राक्षस निकलेगा. इस मां का यह भी कहना है कि अगर इस जघन्य अपराध में वह कानून के शिकंजे से बचकर निकल गया तो मैं खुद ही उसे जान से मार दूंगी.

ऐसी ही प्रतिक्रिया आरोपी हंसराज के पिता की भी रही. उन्होंने कहा कि जब तक उसे कठोर सजा नहीं मिलेगी, वे सिर उठाकर नहीं चल पाएंगे.

वहीं दूसरी ओर अन्य आरोपी महेश गुर्जर की मां भगवान से पूछ रही हैं कि आखिर क्यों उन्होंने ऐसे पापी बेटे को उनके घर में जन्म दिया. जिस मां तीजा देवी ने आरोपी महेश गुर्जर को 9 महीने तक अपनी कोख में रखा, वे कहती हैं, “भगवान ने ऐसे पापी बेटे को मेरे घर में जन्म क्यों दिया?”

इसके लिए उन्होंने खुद को भी कोसा कि यह उनके पिछले जन्म के पापों का नतीजा है, जो महेश गुर्जर जैसे बेटे ने उनकी कोख से जन्म लिया. बेटे के लिए कठोर सजा की मांग करते हुए तीजा देवी ने कहा, “उसे ऐसी सजा मिलनी चाहिए, जिससे कि कोई दूसरा इस प्रकार का पाप करने की हिम्मत न करे.”

राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी इलाके में पति को बंधक बनाकर पत्नी से पांच युवकों ने न केवल गैंगरेप किया था, बल्कि इसका वीडियो भी बनाया था. पीड़िता ने दो मई को रिपोर्ट दर्ज कराई थी. इसमें कहा गया था कि वह 26 अप्रैल को दोपहर तीन बजे पति के साथ बाइक से गांव लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रही थी कि तभी आरोपियों ने उन्हें घेरकर उसके साथ इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया.

इतना ही नहीं इस मामले में पुलिस पर भी आरोप लगे कि उन्होंने चुनाव के कारण मामले को चार दिन तक दबाए रखा. फिलहाल पुलिस ने मामले में सभी आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

ये भी पढ़ें-   VIDEO: अलवर गैंगरेप पीड़ित दंपति ने मांगी सरकारी नौकरी, कहा- बलात्कारियों को फांसी दो

बलात्कार की घटनाओं से फिर शर्मसार हुआ राजस्थान, आखिर कब जागेगी सरकार?