Hyderabad encounter: विवादित ट्वीट पर Babul Suprio की सफाई, ‘मैंने नहीं किया’

बाबुल सुप्रियो ने लिखा ‘ये ट्वीट मैंने नहीं बल्कि मेरी टीम के सदस्य अविनाश पांडे ने किया था.

हैदराबाद में रेप के बाद नृशंस हत्या के चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया. पूरे देश से इस पर प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इसी कड़ी में बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने एक आपत्तिजनक ट्वीट किया. विवाद बढ़ने पर उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया और सफाई भी दी. पहले उनके ट्विटर हैंडल से लिखा गया था ‘मानवाधिकार मानवों के लिए है, एनकाउंटर में मारे गए 4 राक्षसों के लिए नहीं.’

बाद में इस ट्वीट पर सफाई देते हुए बाबुल सुप्रियो ने लिखा ‘ये ट्वीट मैंने नहीं बल्कि मेरी टीम के सदस्य अविनाश पांडे ने किया था. उन्हें तुरंत निकाल दिया गया. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं और यही वजह है कि मैं सोशल मीडिया टीम नहीं रखना चाहता था. मेरी गलती है.’

एक और ट्वीट में बाबुल सुप्रियो ने कहा ‘नाम बताना जरूरी था क्योंकि मेरे पास मीडिया से फोन कॉल्स आ रहे हैं. उसे (अविनाश) बिना शर्त माफी मांगने को कहा गया है अगर कोई उसे कॉल करता है. क्या ये कोई बड़ी बात है? क्या आप लोग नहीं जानते कि दिव्या स्पंदना राहुल गांधी और पीके(प्रशांत किशोर) ममता दीदी को हैंडल करते हैं?’

बता दें कि शुक्रवार की सुबह ये खबर तेजी से पूरे देश में छा गई कि सुबह तीन बजे तेलंगाना पुलिस चारों आरोपियों को सीन रिक्रिएशन के इरादे से वारदात की जगह पर ले गई. वहां पर आरोपियों ने भागने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हें मार गिराया. बहुत से लोगों ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाया और कई लोगों ने पुलिस को शाबाशी दी.

ये भी पढ़ें:

Hyderabad encounter: Bollywood ने कहा ‘शाबाश तेलंगाना पुलिस’
‘दोषियों को छोड़ना नहीं’, होश में आने पर पूछ रही उन्‍नाव रेप पीड़‍िता- मैं बच तो जाऊंगी?