हैदराबाद: बेटा नहीं पैदा हुआ तो दिया ट्रिपल तलाक

शिकायत के आधार पर दहेज निषेध कानून की विभिन्न धाराओं और मुस्लिम महिला (तलाक पर सुरक्षा का अधिकार) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

हैदराबाद में फिर एक बार ट्रिपल तलाक का मामला सामने आया है, जहां पति ने लड़की को जन्म देने के कारण अपनी पत्नी को कथित रूप से प्रताड़ित किया और तीन तलाक दे दिया. ट्रिपल तलाक देने वाले एक व्यक्ति के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है.

मेहराज बेगम नामक एक महिला ने 16 नवंबर को पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई. जिसमें आरोप लगाया है कि उसके पति ने 14 नवंबर को उसे तीन तलाक दिया. पुलिस ने बताया कि महिला की सास समेत कुछ रिश्तेदारों के खिलाफ भी दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है.

महिला ने शिकायत में कहा कि उसका निकाह 2011 में हुआ था. लेकिन कुछ महीने बाद ही पति और सास ससुर उसे दहेज की मांग को लेकर प्रताड़ित करने लगे. महिला ने जब लड़की को जन्म दिया तो उसके ससुराल वालों ने उसे शारीरिक प्रताड़ना देना शुरू कर दी.

शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 498A (घरेलू हिंसा), 406 (आपराधिक विश्वासघात), 506 (आपराधिक धमकी), दहेज निषेध कानून की विभिन्न धाराओं और मुस्लिम महिला (तलाक पर सुरक्षा का अधिकार) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

गौरतलब है कि संसद ने एक अगस्त को मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) अधिनियम 2019 पारित किया था जिसके मुताबिक तीन तलाक अब अपराध की श्रेणी में आता है.